Headlines :
Home / Crime / रोहित शेखर की मौत के मामले में हत्या की FIR दर्ज, शक के घेरे में परिवार

रोहित शेखर की मौत के मामले में हत्या की FIR दर्ज, शक के घेरे में परिवार

पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मौत में हत्या का खुलासा होने के बाद पुलिस की तफ्तीश रोहित के परिवार तक पहुंच गई है.रोहित शेखर तिवारी की मौत को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. पोस्टमॉर्टम में रोहित की मौत को अस्वभाविक बताया गया है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक मुंह दबाकर रोहित को मारा गया. हो सकता है कि मुंह पर तकिया रखकर दबाया गया हो. सके साथ ही फॉरेंसिक और क्राइम ब्रांच की टीमें उनके आवास पर पहुंच गई हैं. क्राइम ब्रांच ने घर पर मौजूद लोगों से पूछताछ भी शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, रोहित शेखर की पत्नी पर पहला शक है.इनके अलावा रोहित के भाई व नौकरों से भी सख्ती से पूछताछ की जा रही है.पत्नी अपूर्वा के कॉल रिकॉर्ड भी खंगाले जा रहे हैं. अपूर्वा ने 15-16 अप्रैल की रात जिन जिन लोगो को फोन किया उसकी पड़ताल की जा रही है. घर के तमाम लोग जो कत्ल के वक्त घर में मोजूद थे. सबके कॉल डीटेल्स खंगाले जा रहे है.

जानिए पूरा मामला

पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी राजधानी दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी में अपनी मां उज्ज्वला तिवारी के साथ रहते थे, 16 अप्रैल को वो कमरे में संदिग्ध हालात में पाए गए थे. उन्हें फौरन साकेत मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया था. इस दौरान मां उज्ज्वला ने कहा था कि रोहित कि उन्हें किसी पर शक नहीं है, ये प्राकृतिक ही है. पर वह इस बात का खुलासा बाद में करेंगी कि रोहित की मौत किन परिस्थितियों में और किन वजहों से हुई. उनकी मां ने बाद में मौत की वजह डिप्रेशन को बताया था.

वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बताया गया है कि किसी मुलायम वस्तु से उनके मुंह व नाक को दबाया गया, जिससे दम घुटने की वजह से उनकी मौत हुई है। रोहित के गले पर भी निशान पाए गए हैं। इससे माना जा रहा है कि तकिये से मुंह दबाकर रोहित की हत्या की गई है. उनकी मौत का समय 15-16 अप्रैल की दरम्यानी रात 1:30 बजे का है. जबकि रोहित को 16 अप्रैल की शाम करीब 5 बजे अस्पताल ले जाया गया. इसका मतलब ये है कि वो करीब 15 घंटे तक घर में ही मृत पड़े थे.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद शुक्रवार देर रात दिल्ली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया था. अब इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है. इससे पहले क्राइम ब्रांच की टीम ने रोहित के घर में सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को खंगाला. रोहित के घर में 7 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. जिनमें से 2 काम नहीं कर रहे थे. इसके अलावा रोहित जहां मृत पाए गए थे, उस मौका-ए-वारदात की भी छानबीन की गई.

About Sonali Sona

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

लिस्ट में नाम न होने से नाराज उदित राज, कहा- उम्मीद करता हूं BJP दलितों को धोका नहीं देगी

लोकसभा चुनाव-2019 में दिल्ली के उत्तर-पश्चिम दिल्ली सीट पर सियासत गरमा गई ...