Home / Crime / प्रवर्तन निर्देशालय कर रही है फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ

प्रवर्तन निर्देशालय कर रही है फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ

श्रीनगर में सोमवार को (ED) ने जम्मू-कश्मीर के क्रिकेट एसोसिएशन में पैसों की हुई गड़बड़ी के मामले में फारूक अब्दुल्ला से पूछताछ किया था। पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला से (ED) पूछताछ कर रहा है। जम्मू-कश्मीर के क्रिकेट एसोसिएशन में पैसों की हुई गड़बड़ी के मामले में ये पूछताछ हो रहा है। इसके पहले भी “ED”  ने फारूक अब्दुल्ला से इस मामले में सवाल-जवाब कर चुका है। ये पूछताछ (श्रीनगर) में ही रही है। जम्मू-कश्मीर के क्रिकेट संघ में हुई 113 करोड़ रुपये की धांधली का मामला काफी पुराना है। पहले यह जांच जम्मू-कश्मीर की पुलिस कर रही थी। जिसके बाद अदालत ने इसे CBI के हवाले सौंप दिया था। बाद में इस पूरे केस में ED का एंट्री हुआ था। क्योंकि ये मामला मनी लॉन्ड्रिंग से जोड़ा गया था. पर उमर अब्दुल्ला का कहना है कि “ED” ने फारूक अब्दुल्ला के घर पर कोई रेड नहीं कीया है। उमर ने ट्वीट कर लिखा कि पार्टी की ओर से ईडी के समन का जवाब दिया जाएगा. ये सिर्फ गुपकार समझौते पर जो पार्टियां एकजुट हुई हैं उसका बदला लिया जा रहा है.हाला की ED ने पिछले साल भी इस मामले में फारूक अब्दुल्ला से सवाल किया था। “CBI” की जांच में ये बात सामने आया थी कि B.C.C.I ने 2002 से 2012 के बीच J.K.C.A को राज्य में खेल के उत्साह को बढ़ावा देने के लिए 113 करोड़ रुपए दिया था। पर इस रकम को पूरी तरह खर्च नहीं किया गया।

फारूक अब्दुलाह पे आरोप है कि इसमें से कुल 4300 करोड़ रुपए से ज्यादा का गबन किया गया था और इस पैसे को खिलाड़ियों के ऊपर भी खर्च नहीं किया गया था। “CBI “ ने अपनी जांच में फारूक अब्दुल्ला का नाम शामिल किया था। अब (ED) बैंक के डॉक्यूमेंट्स के आधार पर उनसे सवाल कर रही है। “CBI” के मुताबिक फारूक अब्दुल्ला कजम्मू कश्मीर के क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष रहते हुए पैसों का गबन किया था। यह 113 करोड़ रुपए का घोटाला है। इसमें फारूक अब्दुल्ला के साथ क्रिकेट एसोसिएशन के तत्कालीन महासचिव (मोहम्मद सलीम खान), तत्कालीन कोषाध्यक्ष (अहसान अहमद मिर्जा) और जम्मू कश्मीर बैंक का एक कर्मचारी (बशीर अहमद मिसगर) आरोपी हैं। फारूक अब्दुल्ला जब से हाउस अरेस्ट से रिहा हुए है। ये तभी से सुर्खियों में हैं बीते दिनों में उनकी अगुवाई में ही जम्मू-कश्मीर में विरोधी पार्टियों की बैठक हुई थी। जिसमें 370 के अनुच्छेद मसले पर रणनीति बनायीं गयी थी .

 

About SAPNA BHARDWAJ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

छुरा मारने वाला आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे।।

पटना के मनेर थाना अंतर्गत छुरा मारने वाला आरोपी चढ़ा पुलिस के ...