Home / Crime / यूपी में थमने का नाम नहीं ले रहा बलात्कार का मामला; कहा है यूपी का कानून?

यूपी में थमने का नाम नहीं ले रहा बलात्कार का मामला; कहा है यूपी का कानून?

हाथरस की निर्भया के मामले ने एक बार फिर सरकारी दावों और पुलिस सुरक्षा के इंतजामों को बेनकाब कर दिया है। 29 सितम्बर को हाथरस की निर्भया के दम तोड़ने के बाद उतर प्रदेश के बलरामपुर में एक छात्रा के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया। मंगलवार की सुबह छात्रा फीस जमा करने अपने कॉलेज गई थी। शाम के वक्त एक रिक्शा चालक छात्रा को बेहोशी की हालत में उसके घर के पास छोड़कर चला गया। परिवार के लोग छात्रा को अस्पताल ले जाही रहे थे लेकिन रास्ते में ही छात्रा ने अपनी दम तोड़ दी। परिवार का आरोप है कि उनकी बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था। इस मामले में यूपी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। अभी तो हाथरस की निर्भया के साथ हुए गैंगरेप और कत्ल मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि यूपी के कई दूसरे जिलों में बलात्कार के मामले सामने आए हैं। बलरामपुर में एक छात्रा की गैंगरेप के बाद मौत हो गई। वहीं सुल्तानपुर में भी एक लड़की के साथ गैंगरेप के मामले को अंजाम दिया गया। बुलंदशहर में भी एक नाबालिक बच्ची के साथ उसके पड़ोसी ने रेप किया। फ़तेहपुर में भी बच्चियों के साथ बलात्कार के शर्मनाक मामले सामने आए हैं। ठीक इस घटना के दो दिन पहले 27 सितंबर की रात केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में स्तिथ थाना जगदीशपुर क्षेत्र के एक गांव में दो लोगों ने एक दलित नाबालिक लड़की के साथ बलात्कार किया था। पीड़िता अपनी बहन की ससुराल आई हुई थी। दलित नाबालिक लड़की को रात में सोते वक्त अगवा किया गया। फिर आरोपी उसे जंगल में उठा ले गए और फिर बारी-बारी से आरोपियों ने उसके साथ बलात्कार किया। फिर बेहोशी की हालत में उसे वहीं छोड़ कर भाग। अगले दिन सुबह गाँव के लोगो ने देखा तो इसकी सूचना परिजनों को दी। मामला थाने में पहुंच गया एनकाउंटर करने वाली पुलिस ने पहले तो दोनों आरोपियों के ख़िलाफ सिर्फ छेड़खानी का मुकदमा दर्ज किया था। लेकिन जब लड़की के मेडिकल रिपोर्ट ने बलात्कार की गवाही दी तो पुलिस ने रेप की धारा को बढ़ाया। दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया। यूपी के फतेहपुर में भी 6 साल की मासूम बनी शिकार : यूपी के फतेहपुर जिले में एक 6 साल की मासूम के बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया। यह घटना भी 29 सितम्बर की है। मासूम की चीख पुकार सुनकर पहुंचे गाँव के लोगो ने आरोपी को दौड़कर पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। फतेहपुर के “ACP” प्रशांत वर्मा ने बताया कि नाबालिग के साथ रेप की घटना सामने आई है। पड़ोसी युवक ने रेप किया। आरोपी (अनिल निषाद) को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सवाल है कि आखिर क्या हो रहा है यूपी में, कहां है यूपी का कानून? कहां गईबात बात पर एनकाउंटर करने वाली यूपी की पुलिस। कहां गई वो सरकारी ताकत जो छोटे-छोटे मामलों में आरोपियों पर तुरंत एनएसए लगाती है पर रेप जैसी संगीन मामले को अंजाम देने वालों पर बस 376 का मुकदमा लिखकर कार्रवाई पूरी की जा रही है।

About SAPNA BHARDWAJ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

तौसीफ का कुबूल-ए जुर्म , निकिता हत्या काण्ड

पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी तौसिफ ने बताया है कि ...