Friday, May 20, 2022
spot_imgspot_img
HomeEntertainmentउर्फी जावेद खास वजह से पढ़ रहीं भगवद गीता, बताया मुस्लिम से...

उर्फी जावेद खास वजह से पढ़ रहीं भगवद गीता, बताया मुस्लिम से क्यों नहीं करेंगी शादी

spot_imgspot_img

उर्फी जावेद बिग बॉस ओटीटी से सुर्खियों में आएं। अब आए दिन अपने कपड़ों की वजह से सुर्खियों में रहती हैं। उर्फी कंजर्वेटिव मुस्लिम फैमिली से हैं। वह कई बार अपनी जिंदगी के संघर्ष के बारे में बता चुकी हैं। उर्फी ने बीते दिनों इंस्टाग्राम स्टोरी पर अपनी फोटो शेयर की थी और लिखा था कि वह भगवद गीता पढ़ रही हैं। उनका एक इंटरव्यू सुर्खियों में है। इसमें उन्होंने कहा है कि वह मुस्लिम लड़के से शादी नहीं चाहतीं। ऐसा क्यों है इसकी वजह भी बताई है।

उर्फी जावेद अपनी लाइफ बिंदास जीती हैं। कपड़ों के मामले में भी उनकी चॉइस कुछ लोगों को बोल्ड लगती है तो कुछ को ओवर द टॉप। बिग बॉस ओटीटी से लोगों के बीच पहचान बनाने वाली उर्फी खुद को ओवर द टॉप मानती हैं और उनका कहना है कि यह उनके कपड़ों में भी झलकता है। कपड़ों की वजह से उन्हें अक्सर ट्रोल किया जाता है। उर्फी ने इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में इस बारे में बात की।

उर्फी ने इंटरव्यू में कहा कि समाज उनके बोल्ड लुक्स इसलिए नहीं स्वीकार करता क्योंकि इंडस्ट्री में उनका कोई गॉड फादर नहीं है। वहीं सबसे बड़ी बात ये है कि वह मुस्लिम हैं। उर्फी ने कहा, मैं मुस्लिम लड़की हूं। मुझे नफरत वाले जितने भी कमेंट्स मिलते हैं वे मुस्लिमों के ही होते हैं।

लोग कहते हैं कि मैं इस्लाम की छवि बिगाड़ रही हूं। वे मुझसे नफरत करते हैं क्योंकि मुस्लिम पुरुष चाहते हैं कि उनकी महिलाएं एक खास दायरे में रहें। वे समुदाय की सारी महिलाओं को ही कंट्रोल करना चाहते हैं। इसी वजह से मैं इस्लाम में यकीन नहीं रखती हूं। वे मुझे ट्रोल ही इसलिए करते हैं क्योंकि मैं उनके धर्म और उनके मुताबिक नहीं चल रही।

उर्फी ने बताया कि वह मुस्लिम लड़के से कभी शादी नहीं करेंगी। क्योंकि वे अपनी सोच के हिसाब से महिलाओं को कंट्रोल करते हैं। उन्होंने बताया कि वह इस्लाम में यकीन नहीं करतीं और किसी धर्म को फॉलो नहीं करतीं। उर्फी ने कहा, मुझे फर्क नहीं पड़ता कि मुझे किससे प्यार होता है। हम जिसे चाहें उससे शादी कर लेनी चाहिए।

उर्फी अपने पिता के साथ तनावभरे रिश्ते के बारे में कई बार बात कर चुकी हैं। उन्होंने कहा, मेरे पिता बहुत रूढ़िवादी आदमी थे। उन्होंने मुझे और मेरे भाई-बहनों को मेरी मां के साथ तब छोड़ दिया जब मैं 17 साल की थी। मेरी मां बहुत धार्मिक हैं पर अपना धर्म हम पर कभी नहीं थोपा। मेरे भाई-बहन इस्लाम को मानते हैं पर मैं नहीं। ऐसा ही होना चाहिए। आप अपनी पत्नी-बच्चों पर धर्म नहीं थोप सकते। ये दिल से आना चाहिए वर्ना न आप खुश रहेंगे न अल्लाह। 

उर्फी ने बताया कि वह इस वक्त भगवद गीता पढ़ रही हैं। वह इंस्टा पर अपनी फोटो भी पोस्ट कर चुकी हैं। उर्फी कहती हैं, इस वक्त मैं भगवत गीता पढ़ रही हूं। मैं इस धर्म (हिंदू) के बारे में जानना चाहती हूं। मैं इसकी लॉजिकल बातों में ज्यादा इंट्रेस्ट ले रही हूं। मुझे कट्टरता नहीं पसंद है, मैं इस पवित्र किताब से अच्छी चीजें ले रही हूं।

उर्फी जावेद अपने इंटरव्यूज में पहले बता चुकी हैं कि उनके परिवार में महिलाएं 5 बजे के बाद बाहर नहीं जा सकती थीं। उन्होंने बताया था कि उनके पिता ने उनको मेंटली और फिजिकली टॉर्चर किया है। 

उर्फी लखनऊ से हैं और उन्होंने बताया था कि 11वीं क्लास में उनकी तस्वीरें किसी ने अडल्ट साइट पर अपलोड कर दी थीं। इसके बाद उनके रिश्तेदार उनको पोर्न स्टार समझने लगे थे। उर्फी ने बताया था कि पिता ने इतना टॉर्चर किया था कि वह अपना नाम तक भूल गई थीं। उर्फी का कहना है कि उनके बुरे पास्ट की वजह से ही वह इतनी रिबेलियस हो गई हैं।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments