Home Business जानें क्या है नियो बैंक? यहां मिलती है मुफ्त में खर्च, सेविंग...

जानें क्या है नियो बैंक? यहां मिलती है मुफ्त में खर्च, सेविंग और निवेश की सलाह

कोरोना महामारी के चलते लोगों के बैंकिंग के तरीकों में बदलाव आया है। लोग लेन-देन के लिए डिजिटल बैंकिंग का सहारा ले रहे हैं। इस बदलाव ने फिनटेक स्टार्टअप्स को बड़ा मौका दे दिया है। वे ग्राहकों को लेनदेन के साथ नियो बैंकिंग की सुविधा मुहैया करा रहे हैं।

नियो बैंकिंग के तहत स्टार्टअप्स व्यक्तिगत बैंकिंग समाधान उपलब्ध करा रहे हैं। वे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये ग्राहकों के खर्च का विश्लेषण करके रिपोर्ट तैयार करते हैं। इसके बाद वह ग्राहकों को समझदारी से खर्च और बचत करने की सलाह देते हैं। इतना ही नहीं, भविष्य में वित्तीय गलतियों को सुधारने के टिप्स भी मुहैया कराते हैं।

जीवनशैली के आधार पर समाधान

फिनटेक स्टार्टअप्स जो नियो बैंक के नाम से डिजिटल बैंकिंग की सुविधा मुहैया करा रहे हैं वो परंपरागत बैंकों के मुकाबले बेहतर सेवा देने की कोशिश कर रहे हैं। फिनटेक एप फिनइन के प्रवक्ता का कहना है कि आप किसी बैंक से अपनी जीवनशैली के हिसाब से सेवा पाने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। लेकिन हम अपने प्रत्येक ग्राहकों की जीवनशैली के आधार पर समाधान प्रदान करते हैं।

नियो बैंक के चार फायदे
1. सभी खातों को एक एप से जोड़ना

नियो बैंक एप आपको अपने सभी बैंक खाते और क्रेडिट कार्ड को एक साथ लिंक करने की सुविधा प्रदान करता है। इस तरह आप अपने खर्च और बचत को आसानी से मैनेज कर पाते हैं।

2. रिमाइन्डर और नोटिफिकेशन

यह एप आपको बिल भुगतान की तारीख, सब्स्क्रिप्शन रद्द करने का एलर्ट, रिफंड को ट्रैक करने आदि का नोटिफिकेशन समय-समय पर भेजता रहता है। इसके साथ ही तमाम तरह के बिल पेमेंट का विकल्प भी इस एप से मिलता है।

3. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये विश्लेषण

नियो एप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये विश्लेषण कर खर्च, बचत और निवेश की सलाह मुहैया करता है।

4. आपातकालीन फंड जमा करने की सुविधा

कई नियो बैंक एप आपातकालीन फंड बनाने की सुविधा भी देते हैं। आप अपने लक्ष्य के अनुसार महीने में एक तय रकम आपातकालीन फंड के लिए आसानी से जमा कर सकते हैं।

टेक्नोलॉजी की समझ तो ही खाता खोलें

डिजिटल बैंकिंग बढ़ने के साथ बढ़ते फर्जीवाड़ा से अपने ग्राहकों की सुरक्षा करने के लिए फिनटेक स्टार्टअप्स बैंक-स्तरीय सुरक्षा, धोखाधड़ी-रोधी और एन्क्रिप्शन प्रणालियों का उपयोग करते हैं। इसके बावजूद विशेषज्ञों का कहना है कि टेक्नोलॉजी की अच्छी समझ रखने वाले व्यक्तियों को ही नियो बैंक में खाता खोलना चाहिए।

क्या है नियो बैंक?

नियो बैंक ऐसा बैंक है जिसकी कोई फिजिकल ब्रांच नहीं होती, यह पूरी तरह डिजिटल बैंक हैं। ये केवल ऑनलाइन मौजूद हैं। हालांकि भारत में नियमों के अनुसार 100 प्रतिशत डिजिटल बैंकों की अनुमति नहीं है, इसलिए इन नियो बैंकों को फिनटेक कंपनियों के रूप में भी जाना जा सकता है। नियो बैंकिंग में मोबाइल बैंकिंग पर फोकस किया जाता है। इसमें सभी सेवाएं मोबाइल एप के जरिये मिलती है। नियो बैंक मोबाइल फर्स्ट दृष्टिकोण अपनाते हैं, यानी ये सभी सेवाएं मोबाइल के जरिए देते हैं और डिजिटल ऑपरेटिंग मॉडल पर जोर देते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments