spot_imgspot_img
HomePoliticalराहुल के मत्स्य पालन मंत्रालय बनाने के बयान पर गिरिराज का संसद...

राहुल के मत्स्य पालन मंत्रालय बनाने के बयान पर गिरिराज का संसद में तंज, उनकी याददाश्त कम हो गई है

spot_img

मत्‍स्‍य पालन के लिए अलग मंत्रालय की मांग को लेकर आज संसद में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को खूब सुनाया। गिरिराज सिंह ने कहा कि राहुल गांधी को किसी स्कूल में भेजने की जरूरत है ताकि उन्हें जानकारी हासिल हो सके कि भारत सरकार के अंदर कौन-कौन से विभाग काम कर रहे हैं।

गिरिराज सिंह ने कहा, ‘पता नहीं उनकी यादाश्त खत्म हो गई या क्या हुआ, पता नहीं। मुझे ठेस लगी है कि राहुल गांधी ने 2 फरवरी को प्रश्न किया था लेकिन पुडुचेरी और कोच्ची में जाकर कहा कि मत्स्य पालन विभाग है ही नहीं। मैं सरकार में आऊंगा तो एक अलग मंत्रालय बनाऊंगा। मुझे अफसोस है महोदय कि यह किसका प्रश्न था? मैं संवैधानिक प्रश्न खड़ा कर रहा हूं।’

गिरिराज ने आगे कहा, ‘इनके नेता को कहीं स्कूल भेजिए, इनको बताइए कि भारत में कौन-कौन डिपार्टमेंट काम कर रहा है। नहीं तो ये भूल जाते हैं कि संघीय ढांचे में कौन-कौन से विभाग हैं।’

बता दें कि इससे पहले गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर के भी कहा था, ‘राहुल जी ! आपको इतना तो पता ही होना चाहिए कि 31 मई,2019 को ही मोदी जी ने नया मंत्रालय बना दिया। और 20050 Cr रुपए की महायोजना (PMMSY) शुरू की जो आज़ादी से लेकर 2014 के केन्द्र सरकार के खर्च (3682 cr) से कई गुना ज़्यादा है।’

राहुल ने इसी माह पुडुचेरी के अपने संबोधन में किसान आंदोलन और मछुआरों का जिक्र करते हुए कहा था, ‘सरकार ने देश की रीढ़ कहे जाने वाले किसानों के खिलाफ तीन कानून पास किए हैं। आपको हैरानी होगी कि मैं यहां मछुआरों के बीच किसानों की बात क्‍यों कर रहा हूं क्‍यों‍कि मैं आपको (मछुआरों को) ‘समुद्र का किसान’ मानता हूं।’ राहुल ने कहा था कि अगर जमीन के किसानों के लिए मंत्रालय हो सकता है तो ‘समुद्र का किसानों’ के लिए क्‍यों नहीं हो सकता। राहुल के इस बयान पर केंद्रीय मत्‍स्‍य पालन और पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह को उन पर निशाना साधा है।

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments