Home State समर्थ नारी समर्थ भारत के राष्ट्रीय बैठक में प्रज्ञा के हत्यारे सास-ससुर...

समर्थ नारी समर्थ भारत के राष्ट्रीय बैठक में प्रज्ञा के हत्यारे सास-ससुर की गिरफ्तारी का मुद्दा उठा।

राजेश कुमार (पटना)

समर्थनारी-समर्थभारत की राष्ट्रीय बैठक में जला कर मार दीगई पटना की प्रज्ञा के हत्यारे सासससुर की गिरफ्तारी का मुद्दा उठा
समर्थ नारी समर्थ भारत महिलाओं द्वारा संचालित एकमात्र अखिल भारतीय संगठन जिसका लक्ष्य शस्त्र से शास्त्र तक और रोटी से रोजगार तक है की तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक होटल गोल्डन गैलेक्सी, लखनऊ में 20 से 23 मार्च 2021 तक संपन्न हुई।बैठक में महिलाओं के साथ हों रहे अत्याचार के आरोपियों की गिरफ्तारी में की जा रही कोताही की निंदा की गई।इस मामले में पिछले साल 28 मई को ही जलाकर मार दी गई पटना की प्रज्ञा आंनद के सास रूमा लाल ससुर रिटार्डडीएसपी के एम लाल की गिरफ्तारी वारंट निकलने के बाद भी होने पर आश्चर्य व्यक्त किया गया। संगठन की राष्ट्रीय सह संयोजिका माया श्रीवास्तव ने बैठक के बाद बताया कि तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक एवं समर्थ नारियो द्वारा भारतीय संस्कृति,संस्कार,उत्थान,पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण,शुद्धता, स्वास्थ्य संरक्षण, क्रीड़ा, जैविक कृषि उत्थान पर विशेष चर्चा चली।साथ ही बैठक में उपस्थित बिभिन्न प्रदेश के पदाधिकारीयों ने अपने अपने प्रदेश में हुए कार्यों का ब्योरा दिया।
राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में श्रीमती माया श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में बिहार में जन जन तक समर्थ नारी समर्थ भारत के द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी।साथ ही बिहार, झारखंड व पश्चिम बंगाल के किए जा रहे कार्यो की रूपरेखा भी प्रस्तुत की। उन्होने बताया कि समर्थ नारी समर्थ भारत से जुड़े महिलाओं द्वारा आपसी सहयोग से चलाए जा रहे ममता रसोई किस तरह जनता के सहयोग से रोजगार परख महिलाओं को बनाया गया।साथ ही स्वावलंबी समर्थनारियो द्वारा समर्थनारी संगठन को सिलाई मशीन और ?विभिन्न प्रकार के कार्यों की सूचना दी।और आगामी कार्यक्रमों की जानकारी दी।साथ ही उत्तराखंड से आई श्रीमती कुसुम चमोली जी ने उत्तराखंड, मे समर्थनारियो द्वारा किस प्रकार से समर्थ बनाने का कार्य किया जानकारी दी। उत्तराखंड की बंजर भूमि को किस प्रकार से महिलाओं ने उपजाऊ भूमि मे परिवर्तित किया जानकारी दी।साथ ही सिलाई और महिलाओं द्वारा पहाड़ों के पारम्परिक स्वलपाहार का कार्य किस प्रकार से प्रारभ किया जानकारी दी।उत्तराखंड, हिमाचल, पंजाब की प्रभारी होने के साथ आपने आगामी कार्यक्रम की जानकारी भी दी। श्रीमती नीमा चमोली जी द्वारा ऋषिकेश में हुए कार्यों की,और देहरादून मे खोले किये गये उत्तराखंड प्रदेश कार्यालय के साथ उत्तराखंड मा० राज्यपाल जी द्वारा समर्थनारियो को गवर्नर हाउस में स्टाल और हरिद्वार मे होने वाले कुभ मेले मे* समर्थ नारी समर्थभारतसंगठन की नारियों को स्टाल के साथ स्थान देने के लिये धन्यवाद भी दिया।और आगामी कार्ययोजना बताई। साथ ही श्रीमती सीमा त्रिपाठी जी राष्ट्रीय सचिव जी ने कानपुर में खोले गये संगठन के उत्तर प्रदेश कार्यालय की जानकारी दी और आने वाले समय में समर्थनारियो के सहयोग से और किन किन जिलो मे कार्यालय खुलेंगे जानकारी दी।और असमर्थ परिवार की महिलाओं को कैसे रोजगार परख बनायेगी जानकारी दी । साथ ही राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रिया वर्मा जी ने भारत के 22 राज्यों की महिला अपने संगठन के प्रति कितनी सक्रीय हैं जानकारी दी।और संगठन को स्थान देनेवाले और रोटी से रोजगार में निशुल्क अपने आवास को समर्थनारियो के द्वारा असमर्थ परिवारों की महिलाओं के सहयोग दिये जाने पर हृदय से धन्यवाद किया। प्रिया जी ने बताया की स्वस्थ भारत का सपना लेकर चल रहे माधवबाग आयुर्वेदिक चिकित्सालय के साथ उत्तर प्रदेश को मधुमेह मुक्त और हृदय रोग मुक्त करने के संकल्प को समर्थनारियो का उत्तर प्रदेश के साथ भारत के अन्य राज्यों में कैसे सहयोग रहेगा जानकारी दी। उनहोंने जानकारी दी कि हमारे संगठन से जुडी समर्थनारियां संकल्पित मन से हैं और समर्थ भारत बनाने में सभी अपनी अहम भूमिका निभा रही हैं।और साथ ही करोना काल के एक वर्ष भी हमसभी औनलाइन वैबेनार द्वारा जलसंरक्षण, साइबर क्राइम,पर्यावरण संरक्षण, हृदय आरोग्यम सम्पदा की सफल वेबैनार मीटिंग की जानकारी दी।ऐक्यूप्रेशर का प्रशिक्षण और कलर थैरेपि श्रीमती अंजली अग्रवाल जी लखनऊ द्वारा जी गई जानकारी दी। कुशीनगर, गोरखपुर बडहलगंज, मऊ ,व अन्य जिलों के साथ उत्तराखंड के हरिद्वार में जल्द ही राष्ट्रीय स्तर की सभा समागम होने की बात कही। कार्यकारिणी बैठक में राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्रीमती निधि सिन्हा जी ने संगठन को घर घर तक व विद्यालयों में प्रतियोगिता के माध्यम से बच्चों में संस्कार को बढावा देने की बात कही।उत्तर प्रदेश कोषाध्यक्ष श्रीमती नमिता श्रीवास्तव जी ने संगठन को और विस्तार कर संगठन से जुडी महिलाओं की अहम भूमिका की जानकारी दी और साथ ही उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा प्रदेश कहकर संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश देवताओं और देवियो की भूमि रही हैं।और महिलाओं के अंग प्रदर्शित करने वाले वस्त्रों से कामुक व्यक्ति हमारे समाज की सभ्य बहनो बेटियों पर गिद्ध की तरह निगाह रखता है।ऐसे मे हमारे संगठन को उन कम्पनियों से वार्ता कर अंतरंग वस्त्र प्रदर्शन रोकने की बात करनी चाहिए।वर्ना महिलाओं, बेटियों, के चरित्र हरण की तादात नही रुकेगी। साथ ही उत्तर प्रदेश क्रीडा संयोजीका श्रीमती मनीषा शुक्ला जी द्वारा खेल की तमाम प्रतियोगिता किस प्रकार से की गई जानकारी दी गई। एक साल में सांस्कृतिक प्रतियोगिता किस किस तरह से औनलाइन की गई जानकारी दी गई।कार्यकारिणी की तीन दिवसीय बैठक गोल्डेन गलेक्सी होटल मे सम्पन्न हुई।शहर में आई तमाम प्रदेश प्रभारियों का स्वागत लखनऊ की महिलाओं ने की समर्थनारियो ने किया साथ ही ग्रीन रेस्टोरेंट में मीटिंग के बाद एक साथ भोजन ग्रहण किया। तीन दिवसीय सफल बैठक सम्पूर्ण होने पर संगठन की संस्थापक एवं राष्ट्रीय संयोजि श्रीमती नीरा सिन्हा जी ने सभी को बधाई दी।और भारत के एकमात्र अखिल भारतीय महिलाओं के संगठन से विचार क्रांति लाने की बात कही।संस्कृति, संस्कार, सुरक्षा और स्वरोजगार की दिशा दिखाने वाली सभी समर्थनारियो को सुरक्षित परिवार ढूंढने का रास्ता भी दिखाया।नीरा जी ने कहा अदम्य साहस शक्ति ज्ञान का पुंज समाहित करने वाली नारी शक्ति ही 21वी सदी में अपने द्वारा भारत को ही नही विश्व को ये भान करायेगी कि खाली शब्द नहीं है “वसुधैव कुटुम्बकम”एक जीता जागता शब्द है।साथ ही कहा मिथ्या तोडो कि तुम अबला हो ,रवींद्र नाथ टैगोर जी कह गये थे कि के बोलै तुमि अबला ,बाहुबल धारिणीम, कुछ तो देखा होगा अपनी शक्तियों का सद उपयोग करो भारत पुनः सोने की चिडिया हो जायेगी।बस शर्त ये है कि आपको मिथ्या स्वयं तोडनी होगी सामाज मे दबीकुचली मानसिकता को स्वस्थ दिशा देने की। भारत भ्रमण कर के समर्थनारी परिवार से जुडी बहनो से मिलने का और राष्ट्रीय बैठक को यही सम्पन्न कर उत्तराखंड हरिद्वार में राष्ट्रीय बैठक में गंगा पूजन के साथ तीन दिवसीय समागम की धोषणा की।जिसका कार्यभार उत्तराखंड निवासी श्रीमती कुसुम चमोली जी राष्ट्रीय सह संयोजीका जी द्वारा टीम गठित कर किया जायेगा।साथ ही हम महिलाएं महिलाओं द्वारा निर्मित बस्तुओं को आदान प्रदान भी करें जिससे हमसभी भारत को पुनः स्वदेश, स्वदेशीकरण की तरफ अग्रसर कर सकें।राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लखनऊ की संयोजिका श्रीमती सपना श्रीवास्तव जी व उनकी टीम द्वारा स्वागत किया गया।सभी समर्थनारियो ने एक साथ कसम खाई न हम गलत करेंगे न सुनेंगे और न ही सहेगे।हम मां हैं हमारे लिए बेटा बेटी एक समान है।हम ना दहेज देगे और न ही लेगे।हम वस्त्र नही बदलने आये हैं हम विचार बदलने आये है। हम दीप जलाने आये हैं हम दीप जलाकर जायेंगे।हम भारत की शक्ति हैं,हम उज्जवल भविष्य ही लायेंगे।शपथ समर्थनारी की सुनीता शर्मा,प्रतिभा मिश्रा, अकांक्षा श्रीवास्तव, पुष्प लता अग्रवाल, रीता सिंह व अन्य समर्थनारियो द्वारा ली गई साथ ही प्रदेश द्वारा निर्मित होली से सम्बन्धित सामग्री महिलाओं ने ली। और राष्ट्र गीत के साथ तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक सम्पन्न हुई।समर्थनारी-समर्थभारत की राष्ट्रीय बैठक में जला कर मार दीगई पटना की प्रज्ञा के हत्यारे सासससुर की गिरफ्तारी का मुद्दा उठा समर्थ नारी समर्थ भारत महिलाओं द्वारा संचालित एकमात्र अखिल भारतीय संगठन जिसका लक्ष्य शस्त्र से शास्त्र तक और रोटी से रोजगार तक है की तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक होटल गोल्डन गैलेक्सी, लखनऊ में 20 से 23 मार्च 2021 तक संपन्न हुई।बैठक में महिलाओं के साथ हों रहे अत्याचार के आरोपियों की गिरफ्तारी में की जा रही कोताही की निंदा की गई।इस मामले में पिछले साल 28 मई को ही जलाकर मार दी गई पटना की प्रज्ञा आंनद के सास रूमा लाल ससुर रिटार्डडीएसपी के एम लाल की गिरफ्तारी वारंट निकलने के बाद भी होने पर आश्चर्य व्यक्त किया गया। संगठन की राष्ट्रीय सह संयोजिका माया श्रीवास्तव ने बैठक के बाद बताया कि तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक एवं समर्थ नारियो द्वारा भारतीय संस्कृति,संस्कार,उत्थान,पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण,शुद्धता, स्वास्थ्य संरक्षण, क्रीड़ा, जैविक कृषि उत्थान पर विशेष चर्चा चली।साथ ही बैठक में उपस्थित बिभिन्न प्रदेश के पदाधिकारीयों ने अपने अपने प्रदेश में हुए कार्यों का ब्योरा दिया। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में श्रीमती माया श्रीवास्तव ने अपने सम्बोधन में बिहार में जन जन तक समर्थ नारी समर्थ भारत के द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी।साथ ही बिहार, झारखंड व पश्चिम बंगाल के किए जा रहे कार्यो की रूपरेखा भी प्रस्तुत की। उन्होने बताया कि समर्थ नारी समर्थ भारत से जुड़े महिलाओं द्वारा आपसी सहयोग से चलाए जा रहे ममता रसोई किस तरह जनता के सहयोग से रोजगार परख महिलाओं को बनाया गया।साथ ही स्वावलंबी समर्थनारियो द्वारा समर्थनारी संगठन को सिलाई मशीन और ?विभिन्न प्रकार के कार्यों की सूचना दी।और आगामी कार्यक्रमों की जानकारी दी।साथ ही उत्तराखंड से आई श्रीमती कुसुम चमोली जी ने उत्तराखंड, मे समर्थनारियो द्वारा किस प्रकार से समर्थ बनाने का कार्य किया जानकारी दी। उत्तराखंड की बंजर भूमि को किस प्रकार से महिलाओं ने उपजाऊ भूमि मे परिवर्तित किया जानकारी दी।साथ ही सिलाई और महिलाओं द्वारा पहाड़ों के पारम्परिक स्वलपाहार का कार्य किस प्रकार से प्रारभ किया जानकारी दी।उत्तराखंड, हिमाचल, पंजाब की प्रभारी होने के साथ आपने आगामी कार्यक्रम की जानकारी भी दी। श्रीमती नीमा चमोली जी द्वारा ऋषिकेश में हुए कार्यों की,और देहरादून मे खोले किये गये उत्तराखंड प्रदेश कार्यालय के साथ उत्तराखंड मा० राज्यपाल जी द्वारा समर्थनारियो को गवर्नर हाउस में स्टाल और हरिद्वार मे होने वाले कुभ मेले मे समर्थ नारी समर्थभारत*संगठन की नारियों को स्टाल के साथ स्थान देने के लिये धन्यवाद भी दिया।और आगामी कार्ययोजना बताई।
साथ ही श्रीमती सीमा त्रिपाठी जी राष्ट्रीय सचिव जी ने कानपुर में खोले गये संगठन के उत्तर प्रदेश कार्यालय की जानकारी दी और आने वाले समय में समर्थनारियो के सहयोग से और किन किन जिलो मे कार्यालय खुलेंगे जानकारी दी।और असमर्थ परिवार की महिलाओं को कैसे रोजगार परख बनायेगी जानकारी दी ।

साथ ही राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रिया वर्मा जी ने भारत के 22 राज्यों की महिला अपने संगठन के प्रति कितनी सक्रीय हैं जानकारी दी।और संगठन को स्थान देनेवाले और रोटी से रोजगार में निशुल्क अपने आवास को समर्थनारियो के द्वारा असमर्थ परिवारों की महिलाओं के सहयोग दिये जाने पर हृदय से धन्यवाद किया। प्रिया जी ने बताया की स्वस्थ भारत का सपना लेकर चल रहे माधवबाग आयुर्वेदिक चिकित्सालय के साथ उत्तर प्रदेश को मधुमेह मुक्त और हृदय रोग मुक्त करने के संकल्प को समर्थनारियो का उत्तर प्रदेश के साथ भारत के अन्य राज्यों में कैसे सहयोग रहेगा जानकारी दी। उनहोंने जानकारी दी कि हमारे संगठन से जुडी समर्थनारियां संकल्पित मन से हैं और समर्थ भारत बनाने में सभी अपनी अहम भूमिका निभा रही हैं।और साथ ही करोना काल के एक वर्ष भी हमसभी औनलाइन वैबेनार द्वारा जलसंरक्षण, साइबर क्राइम,पर्यावरण संरक्षण, हृदय आरोग्यम सम्पदा की सफल वेबैनार मीटिंग की जानकारी दी।ऐक्यूप्रेशर का प्रशिक्षण और कलर थैरेपि श्रीमती अंजली अग्रवाल जी लखनऊ द्वारा जी गई जानकारी दी।


कुशीनगर, गोरखपुर बडहलगंज, मऊ ,व अन्य जिलों के साथ उत्तराखंड के हरिद्वार में जल्द ही राष्ट्रीय स्तर की सभा समागम होने की बात कही। कार्यकारिणी बैठक में राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्रीमती निधि सिन्हा जी ने संगठन को घर घर तक व विद्यालयों में प्रतियोगिता के माध्यम से बच्चों में संस्कार को बढावा देने की बात कही।उत्तर प्रदेश कोषाध्यक्ष श्रीमती नमिता श्रीवास्तव जी ने संगठन को और विस्तार कर संगठन से जुडी महिलाओं की अहम भूमिका की जानकारी दी और साथ ही उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा प्रदेश कहकर संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश देवताओं और देवियो की भूमि रही हैं।और महिलाओं के अंग प्रदर्शित करने वाले वस्त्रों से कामुक व्यक्ति हमारे समाज की सभ्य बहनो बेटियों पर गिद्ध की तरह निगाह रखता है।ऐसे मे हमारे संगठन को उन कम्पनियों से वार्ता कर अंतरंग वस्त्र प्रदर्शन रोकने की बात करनी चाहिए।वर्ना महिलाओं, बेटियों, के चरित्र हरण की तादात नही रुकेगी। साथ ही उत्तर प्रदेश क्रीडा संयोजीका श्रीमती मनीषा शुक्ला जी द्वारा खेल की तमाम प्रतियोगिता किस प्रकार से की गई जानकारी दी गई। एक साल में सांस्कृतिक प्रतियोगिता किस किस तरह से औनलाइन की गई जानकारी दी गई।कार्यकारिणी की तीन दिवसीय बैठक गोल्डेन गलेक्सी होटल मे सम्पन्न हुई।शहर में आई तमाम प्रदेश प्रभारियों का स्वागत लखनऊ की महिलाओं ने की समर्थनारियो ने किया साथ ही ग्रीन रेस्टोरेंट में मीटिंग के बाद एक साथ भोजन ग्रहण किया।
तीन दिवसीय सफल बैठक सम्पूर्ण होने पर संगठन की संस्थापक एवं राष्ट्रीय संयोजि श्रीमती नीरा सिन्हा जी ने सभी को बधाई दी।और भारत के एकमात्र अखिल भारतीय महिलाओं के संगठन से विचार क्रांति लाने की बात कही।संस्कृति, संस्कार, सुरक्षा और स्वरोजगार की दिशा दिखाने वाली सभी समर्थनारियो को सुरक्षित परिवार ढूंढने का रास्ता भी दिखाया।नीरा जी ने कहा अदम्य साहस शक्ति ज्ञान का पुंज समाहित करने वाली नारी शक्ति ही 21वी सदी में अपने द्वारा भारत को ही नही विश्व को ये भान करायेगी कि खाली शब्द नहीं है “वसुधैव कुटुम्बकम”एक जीता जागता शब्द है।साथ ही कहा मिथ्या तोडो कि तुम अबला हो ,रवींद्र नाथ टैगोर जी कह गये थे कि के बोलै तुमि अबला ,बाहुबल धारिणीम, कुछ तो देखा होगा अपनी शक्तियों का सद उपयोग करो भारत पुनः सोने की चिडिया हो जायेगी।बस शर्त ये है कि आपको मिथ्या स्वयं तोडनी होगी सामाज मे दबीकुचली मानसिकता को स्वस्थ दिशा देने की।
भारत भ्रमण कर के समर्थनारी परिवार से जुडी बहनो से मिलने का और राष्ट्रीय बैठक को यही सम्पन्न कर उत्तराखंड हरिद्वार में राष्ट्रीय बैठक में गंगा पूजन के साथ तीन दिवसीय समागम की धोषणा की।जिसका कार्यभार उत्तराखंड निवासी श्रीमती कुसुम चमोली जी राष्ट्रीय सह संयोजीका जी द्वारा टीम गठित कर किया जायेगा।साथ ही हम महिलाएं महिलाओं द्वारा निर्मित बस्तुओं को आदान प्रदान भी करें जिससे हमसभी भारत को पुनः स्वदेश, स्वदेशीकरण की तरफ अग्रसर कर सकें।राष्ट्रीय कार्यकारिणी की लखनऊ की संयोजिका श्रीमती सपना श्रीवास्तव जी व उनकी टीम द्वारा स्वागत किया गया।सभी समर्थनारियो ने एक साथ कसम खाई न हम गलत करेंगे न सुनेंगे और न ही सहेगे।हम मां हैं हमारे लिए बेटा बेटी एक समान है।हम ना दहेज देगे और न ही लेगे।हम वस्त्र नही बदलने आये हैं हम विचार बदलने आये है।
हम दीप जलाने आये हैं हम दीप जलाकर जायेंगे।हम भारत की शक्ति हैं,हम उज्जवल भविष्य ही लायेंगे।शपथ समर्थनारी की सुनीता शर्मा,प्रतिभा मिश्रा, अकांक्षा श्रीवास्तव, पुष्प लता अग्रवाल, रीता सिंह व अन्य समर्थनारियो द्वारा ली गई साथ ही प्रदेश द्वारा निर्मित होली से सम्बन्धित सामग्री महिलाओं ने ली। और राष्ट्र गीत के साथ तीन दिवसीय राष्ट्रीय बैठक सम्पन्न हुई। बैठक को राष्ट्रीय संयोजिका नीरा सिन्हा वर्षा ,कुसुम चमोली उत्तराखंड राष्ट्रीय सह सँजोजिका प्रियवर्मा ,राष्ट्रीय महासचिव ,सिमा त्रिपाठी राष्ट्रीय सचिव, निधि सिन्हा, कोषाध्यक्ष, माया श्रीवास्तव राष्ट्रीय सह संयोजिका सह प्रभारी बिहार , पश्चिम बंगाल,झारखंड प्रमूख थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments