Home Election हिंदुत्व की डगर पर ममता! मंच से चंडीपाठ कर फूंका नंदीग्राम में...

हिंदुत्व की डगर पर ममता! मंच से चंडीपाठ कर फूंका नंदीग्राम में बिगुल, शिवरात्रि पर जारी करेंगी मेनिफेस्टो

Advertisements
Advertisements

पश्चिम बंगाल चुनाव में नंदीग्राम विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को यहां रैली की और मंच से ही दुर्गासप्तशती का पाठ भी किया। उन्होंने नंदीग्राम के आंदोलन और अपने संघर्ष को दोहराया। ममता बनर्जी ने कहा, ”सिंगूर के बाद नंदीग्राम का ही आंदोलन हुआ था। मैं गांव की बेटी हूं। नंदीग्राम के दौरान मुझ पर बहुत से अत्याचार हुए थे। मैं अपना नाम भूल सकती हूं, लेकिन नंदीग्राम नहीं।”

मंच से ही चंडीपाठ करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि मैं हिंदू हूं, कोई मुझे हिंदुत्व न सिखाए। मुझे नंदीग्राम आने से रोका गया था। यदि उस दौर में नंदीग्राम की मां और बहनें आगे न आतीं तो मूवमेंट नहीं होता।” ममता बनर्जी ने कहा, ”मैंने लोगों की मांग के चलते नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का फैसला किया। मैंने मन बना लिया था कि मैं इस बार या तो सिंगूर से या फिर नंदीग्राम से चुनाव लड़ूंगी। नंदीग्राम की सीट खाली हो गई थी, इसलिए यहां से लड़ने का फैसला किया।” उन्होंने लोगों से कहा कि यदि आप लोग मुझे कहेंगे कि मुझे यहां से लड़ना चाहिए तभी मैं नॉमिनेशन कराऊंगी।

ममता बनर्जी ने इस रैली में 11 मार्च को यानी शिवरात्रि के दिन पार्टी का मेनिफेस्टो जारी करने का भी ऐलान किया। वह 10 मार्च को पर्चा दाखिल करने वाली हैं। ममता बनर्जी के तेवरों से साफ है कि इस सीट पर बेहद रोचक मुकाबला होने वाला है। 2016 में इस सीट पर 67 फीसदी से ज्यादा वोट हासिल करने वाले शुभेंदु अधिकारी को बीजेपी ने उनके मुकाबले उतारा है।

अपने ही सिपहसालार रहे शुभेंदु के मुकाबले ममता बनर्जी का मुकाबला काफी सुर्खियां बटोर रहा है। शुभेंदुअ अधिकारी ने ममता बनर्जी को इस सीट पर 50,000 से ज्यादा वोटों से हराकर भेजने की बात कही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

WATCH LIVE TV :

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments