Thursday, July 25, 2024

क्या आप जानते हैं आपके लिए कितना खतरनाक हो सकता ईयरफोन या हेडफोन

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

प्रीत

Side Effects of Earphones and Headphones: प्राइवेसी के लिहाज से किसी को कॉल करनी हो, म्यूजिक सुनना हो, रात में ओटीटी सिरीज को बिंज वॉच करना हो या काम करते वक़्त घंटों आपके कान में ईयरफोन(Earphones) लगे रहते हैं। तो वह आपके लिए बहुत नुकसान दायक हो सकते है।

हेडफोन या ईयरफोन से आने वाली आवाज आपके ईयरड्रम(Eardrum) को भारी नुकसान पंहुचा सकती है। डिजिटल मीडिया के यूज और ओटीटी सिरीज की भरमार के साथ ही हेडफोन और ईयरफोन का यूज़ बढ़ता ही जा रहा है। स्कूल की क्लासेस, कोचिंग की ऑनलाइन पढ़ाई का दौर शुरू हो गया है। जिसकी वजह से बच्चे भी अधिकतर ईयरफोन या हेडफोन को कान से लगाए रखते हैं।

इसका प्रयोग कुछ देर के लिए तो सही है। लेकिन लगातार प्रयोग करने से कानों पर बुरा असर पड़ता है। हेडफोन या ईयरफोन से आने वाली आवाज आपके ईयरड्रम को भारी नुकसान देती है।

ईयरड्रम को नुकसान पहुंचाते हैं ईयरफोन और हेडफन

बता दे कि कान के अंदर एक पर्दा होता है। जिसे हम ईयरड्रम के नाम से जानते हैं। इसमें कई नसें और पार्ट्स होते हैं जिससे हमारा दिमाग जुड़ा होता है।अगर तेज आवाज आप सुनते है तो आपके कान के पर्दे में कंपन शुरू हो जाती है जिसका प्रभाव इ्रयरड्रम पर पड़ता है। और यह सुनने की क्षमता को प्रभावित करता है।

लगातार Earphones के इस्तेमाल से बढ़ सकती है परेशानी

आपको बता दे की आप ऑफिस मीटिंग करते समय, पढ़ाई करते वक्त या बात करने के लिए ईयरफोन का यूज़ करते हैं। तो आपके ध्यान देने की अब जरूरत है अगर देर तक हेडफोन ईयरफोन का प्रयोग करते है तो कान में मैल जमा हो सकता है। जिससे कान में संक्रमण और कम सुनने की समस्या आगे चल कर हो सकती है।

Earphones के ज्यादा यूज़ से हो सकती है बहरेपन की समस्या

आपको जान के हैरानी होगी की देर तक हेडफोन या ईयरफोन का प्रयोग करने से आप अपने कानों को बहरा बनाने की ओर बढ़ रहे हैं। ईयरफोन के माध्यम से गाना या मीटिंग करने की आदत आपको बहरा बना सकती है। डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि इस कारण 2050 तक 70 करोड़ से अधिक लोगों के कान खराब हो जाएंगे। वाइब्रेशन अधिक होने के कारण सुनने वाले सेल्स अपकी सेहत के लिए बहुत खतरनाक होता है।

BLUETOOTH ईयरफोनब्लूटूथ हेडफोन से होने वाली समस्याएं

वायरलेस हेडफोन या एयरबड्स से निकलने वाले रेडिएशन की वजह से दिमाग पर बुरा असर पड़ सकता है. ऐसे में सिर दर्द या नींद न आने जैसी समस्याएं भी हो सकती हैनॉन-आयोनाइजिंग रेडिएशन के डायरेक्ट कॉन्टैक्ट में लगातार रहने से ब्रेन टिश्यू के नुकसान होने का खतरा होता है. इससे यूजर्स को न्यूरोलॉजिकल बीमारियों की भी दिक्कतें हो सकती है।

ब्लूटूथ हेडफोन से निकलने वाली रेडिएशन से कैसे बचें?

1. ब्लूटूथ हेडफोन या इयरबड्स का ज्यादा इस्तेमाल न करें

2. इस्तेमाल न होने पर फोन और अन्य गैजेट्स को शरीर से दूर रखें

3. लंबे समय तक गाना सुनने या वीडियो देखने को लिए स्पीकर का इस्तेमाल करें

4. सस्ते की बजाय अच्छे क्वालिटी वाले इयरफोन का इस्तेमाल करें

5. सोते समय फोन समेत अन्य गैजेट्स को दूर रखें

6. दिनभर में एक घंटे से ज्यादा इयरफोन का इस्तेमाल न करें

यह भी पढ़ें – Aamras को मिला बेस्ट मैंगो डिश का खिताब, Taste Atlas की लिस्ट में मिला पहला स्थान

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights