Friday, June 14, 2024

आखिर क्यों अपने ही खिलाफ Asaduddin Owaisi ने अपने भाई को चुनावी मैदान में उतारा? जाने इसके पीछे का मकसद

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

Lok Sabha Election 2024: Asaduddin Owaisi के भाई अकबरुद्दीन ओवैसी ने भी हैदराबाद लोकसभा सीट से नामांकन कर दिया है। और गौर करने वाली बात ये है कि हैदराबाद के अलग-अलग इलाकों में अकबरुद्दीन अपने भाई के लिए जाकर वोट भी मांग रहे हैं। दरअसल, वैकल्पिक या बैकअप उम्मीदवार के तौर पर अकबरुद्दीन ओवैसी ने नामांकन भरा है। चलिए अब जानते है कि आखिर ये बैकअप उम्मीदवार का मतलब क्या होता है।

वैकल्पिक उम्मीदवार क्या होता है?

एक सीट पर नामांकन दो भाइयों के द्वारा भरे जाने के बाद से ही एक सवाल लोगों के मन में खड़ा हो चुका है, कि क्या दोनों भाई हैदराबाद सीट पर आमने-सामने आ चुके हैं? लेकिन, इसका जवाब है नहीं। क्यूंकि न तो दोनों भाई Election मैदान में एक-दूसरे के खिलाफ खड़े हैं और न ही कोई मतभेद दोनों भाईयों के बीच है।
और जैसा कि हमने आपको बताया कि वैकल्पिक या बैकअप उम्मीदवार के तौर पर अकबरुद्दीन ओवैसी ने नामांकन भरा है। दरअसल, अगर Asaduddin Owaisi का नामांकन किसी कारण से खारिज हो जाता है, तो अकबरुद्दीन ओवैसी का नामांकन बैकअप के तौर पर पार्टी के पास रहेगा और ऐसे में एक कैंडिडेट पार्टी का Election में बना रहेगा।

माधवी लता ओवैसी के खिलाफ लड़ रहीं Election

आपको बतादें कि लगातार चार बार Asaduddin Owaisi सांसद चुने गए है। वहीं दूसरी ओर इसी सीट पर उनके पिता सलाहुद्दीन ओवैसी छह बार Election जीत चुके हैं। पर इस बार भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने माधवी लता को Asaduddin Owaisi के खिलाफ मैदान में उतारा है। इसके अलावा, गद्दाम श्रीनिवास यादव भारत राष्ट्र समिति की ओर से Election लड़ रहे हैं।

Congress प्रत्याशी का सूरत में नामांकन रद्द

आपको बतादें Congress प्रत्याशी नीलेश कुंभानी का सूरत Lok Sabha से नामांकन रद्द हो चूका गया है। इसका कारण ये है कि उनके तीन प्रस्तावकों के हस्ताक्षर के सत्यापन में कुछ गड़बड़ी थी।

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights