Monday, December 5, 2022
spot_imgspot_img
HomeStateBIHARमुजफ्फरपुर के पान मसाला कारोबारियों के ठिकानों से 1.35 करोड़ रुपये कैश...

मुजफ्फरपुर के पान मसाला कारोबारियों के ठिकानों से 1.35 करोड़ रुपये कैश जब्त, पटना-सीतामढ़ी में भी आयकर टीम ने मारा छापा

spot_imgspot_img

बिहार के मुजफ्फरपुर में तीन बड़े पान मसाला और जर्दा कारोबारियों के ठिकानों पर बुधवार को आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा। इस दौरान उनके कब्जे से 1.35 करोड़ रुपये कैश जब्त किए गए। तीनों कारोबारियों के पटना, सीतामढ़ी और दरभंगा स्थित ठिकानों पर भी छापेमारी की की गई। छापे की कार्रवाई गुरुवार को भी जारी रहने की संभावना है। 

कारोबारियों के चारों जिलों में स्थित 20 दुकानों, गोदामों और घरों पर छानबीन की जा रही है। छापेमारी की कार्रवाई बुधवार सुबह से शुरू हुई। कई ब्रांडेड पान मसाला के उत्तर बिहार का सीएनएफ रखने वाले ग्रीन केसरी के मुजफ्फरपुर और सीतामढ़ी स्थित ठिकानों पर छापे मारे गए। इनके मुजफ्फरपुर में केदारनाथ रोड स्थित लक्ष्मी निवास से 35 लाख रुपये जब्त हुए। 

कारोबारी अनिल अग्रवाल के दरभंगा और राजेश अग्रवाल के मुजफ्फरपुर स्थित ठिकानों पर छापेमारी की गई। राजेश उर्फ बाबू भाई के पंकज मार्केट स्थित घर से एक करोड़ रुपये मिले। 

इसके अलावा आईटी विभाग की टीम ने तीनों कारोबारियों के ठिकानों से कई कागजात जब्त किए हैं। इनमें सबसे ज्यादा कच्चा बिल है। इनका आधे से ज्यादा कारोबार कच्चे बिल पर ही चल रहा था। ये लोग टर्नओवर भी सही से नहीं दिखाते हैं। इस तरह इनकम टैक्स की चोरी की जाती है। फिलहाल जब्त कागजों और कच्चे बिल की जांच चल रही है। इशके बाद जुर्माना के साथ टैक्स वसूली की जाएगी।

पटना में भी छापेमारी

कारोबारी राजेश अग्रवाल और अनिल अग्रवाल दोनों आपस में भाई हैं। इनके पास राजनिवास पान मसाला का सीएनएफ है। साथ ही जर्दा का भी बड़ा कारोबार है। उत्तर बिहार में इनका कारोबार कई जिलों में फैला है। पटना में अग्रवाल बंधुओं का करबिगहिया में भी पान मसाले की दुकान है। यहां भी सुबह से ही आयकर विभाग की टीम पहुंच गई और अकाउंट बुक, बिल, समेत अन्य कागजातों की छानबीन की।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments