Monday, May 23, 2022
spot_imgspot_img
HomeBusinessसाल 2022 का पहला आईपीओ आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुला, पैसे लगाने...

साल 2022 का पहला आईपीओ आज सब्सक्रिप्शन के लिए खुला, पैसे लगाने से पहले चेक कर लें डिटेल

spot_imgspot_img

AGS Transact Technologies IPO: आज साल-2022 का पहला आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) लॉन्च हो रहा है। पेमेंट सॉल्यूशन कंपनी एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज (AGS Transact Technologies) का आईपीओ आज 19 जनवरी से सब्स्क्रिब्शन के लिए खुल रहा है। निवेशक इस इश्यू में 21 जनवरी तक पैसे लगा सकेंगे। एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज आईपीओ का साइज 680 करोड़ रुपये का है। अगर आप भी साल के पहले आईपीओ में पैसे लगाने की सोच रहे हैं तो आइए जानते हैं इसके बारे में—

जानिए शेयर प्राइस और ग्रे मार्केट भाव?
कंपनी ने इस इश्यू के लिए 166-175 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड (AGS Transact Tech IPO price band) तय किया है। अगर लॉट साइज की बात करें तो इसमें 85 शेयर का एक लॉट साइज है। यानी एक लॉट के आईपीओ के लिए 14,875 रुपये खर्च करने होंगे। एक रिटेल निवेशक 193,375 रुपये में 13 लॉट या 1,105 शेयरों तक के लिए आवेदन कर सकते हैं। बाजार जानकारों के अनुसार, एजीएस ट्रांजैक्ट टेक के शेयर आज ग्रे मार्केट में 18 रुपये के प्रीमियम (GMP) पर कारोबार कर रहे हैं।

इस दिन हो सकती है लिस्टिंग 
शेयरों का अलॉटमेंट 27 जनवरी को फाइनल हो सकता है और इसकी लिस्टिंग 1 फरवरी को हो सकती है। कंपनी के इक्विटी शेयर बीएसई और एनएसई पर लिस्ट होंगे। एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजी के प्रमोटर रवि बी गोयल और विनेहा एंटरप्राइजेज हैं। साथ में, उनकी कंपनी में 97.61 प्रतिशत हिस्सेदारी है। इसके अलावा AGSTTL कर्मचारी कल्याण ट्रस्ट की हिस्सेदारी 1.51 प्रतिशत है। इस आईपीओ के लिए आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, एचडीएफसी बैंक और जेएम फाइनेंशियल बुक-रनिंग लीड मैनेजर हैं।

क्या है कंपनी का कारोबार?
एजीएस ट्रांजैक्ट टेक देश में इंटीग्रेटेड ओमनी-चैनल पेमेंट सॉल्यूशंस प्रोवाइडर है। यह बैंकों व कॉरपोरेट को डिजिटल व कैश से जुड़ी हुई सर्विसेज मुहैया कराती हैं। एटीएम से जुड़ी सेवाओं से होने वाले रेवेन्यू के हिसाब से यह देश की दूसरी सबसे बड़ी और पेट्रोल पंपों पर पीओएस टर्मिनल्स लगाने वाली सबसे बड़ी कंपनी है। कंपनी मुख्य रूप से तीन कारोबारी सेग्मेंट्स- पेमेंट सॉल्यूशन, बैंकिंग ऑटोमेशन सॉल्यूशंस और अन्य ऑटोमेशन सॉल्यूशंस में कारोबार करती है। अगर कंपनी की वित्तीय स्थिति देखें तो कंपनी का नेट प्रॉफिट घटा है। वित्त वर्ष 2020 में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 83.01 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था, जबकि अगले ही वित्त वर्ष 2021 में इसका शुद्ध मुनाफा घटकर 54.79 करोड़ रुपये रह गया।

निवेश करें या नहीं? 
आईपीओ को सब्स्क्राइब रेटिंग देते हुए ब्रोकरेज हाउस Emkay ने कहा, “हमारा मानना ​​है कि एजीएस लंबी अवधि के नजरिए से कैश-कम-डिजिटल प्ले में निवेश करने का मौका है। 175 रुपए के अपर प्राइस बैंड पर, स्टॉक की वैल्यू CMS इंफो सिस्टम्स जैसे दूसरे इश्यू जैसी ही है।” हालांकि, ब्रोकरेज बड़े बैंकों के साथ एटीएम कारोबार कंपनी नुकसान में है। 
वहीं च्वाइस ब्रोकिंग के विश्लेषकों ने कहा “एजीएस के कारोबार ऑपरेशन कोविड -19 महामारी प्रतिबंध से गंभीर रूप से प्रभावित हुए थे, इस प्रकार वित्त वर्ष 2011 में इसकी कमाई कम हो गई थी। हालांकि, च्वाइस ब्रोकिंग की तरफ से ‘सब्सक्राइब फॉर लॉन्ग टर्म’ का रेटिंग दिया गया है। 

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments