Wednesday, July 24, 2024

पत्नी को ‘Second Hand’ बोलना पति को पड़ा भारी!

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

आतिफा शेख

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

आज कल कुछ ऐसी भी खबरे सामने आती है जिससे इंसानियत भी शर्मसार हो जाती है, अब एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसे सुनकर आपको भी उस इंसान की मानसिकता से घिन आएगी क्योंकी उसने अपनी पत्नी को ‘second hand’ कह दिया, पत्नी का बोलना यह था कि नेपाल में हनीमून के दौरान पति ने उसे ‘second hand’ कहकर प्रताड़ित किया क्योंकि उसकी पिछली सगाई टूट चुकी थी. बाद में अमेरिका में पत्नी ने आरोप लगाया कि उसके साथ physical और emotional शोषण किया गया. पति ने उसके चरित्र पर लांछन लगाए और उसके अपने भाइयों पर भी अन्य पुरुषों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया।

अमेरिका में रहने वाले एक व्यक्ति की तलाक की याचिका को खारिज करते हुए Bombay high court ने कहा है कि घरेलू हिंसा उस महिला के आत्मसम्मान को प्रभावित करती है, जिसे हनीमून पर “second hand” कहा गया और उसके पति द्वारा उसके साथ मारपीट की गई. साथ ही High Court
ने निचली अदालत ने उस आदेश को बरकरार रखा है जिसमें अलग रह रही पत्नी को 3 करोड़ रुपये का मुआवजा देने का निर्देश दिया गया था.

दरअसल, पति और पत्नी अमेरिका के नागरिक हैं. उनकी शादी 3 जनवरी, 1994 को मुंबई में हुई थी. एक और शादी अमेरिका में भी हुई थी लेकिन 2005-2006 के आसपास वे मुंबई आ गए और एक घर में रहने लगे. पत्नी ने भी मुंबई में नौकरी की और बाद में अपनी मां के घर चली गई. 2014-15 के आसपास पति वापस अमेरिका चला गया और 2017 में उसने वहां की कोर्ट में तलाक के लिए मुकदमा दायर किया और पत्नी को समन भेजा गया. उसी वर्ष, पत्नी ने मुंबई मजिस्ट्रेट अदालत में घरेलू हिंसा DV अधिनियम के तहत एक याचिका दायर की. 2018 में, अमेरिका की एक कोर्ट ने जोड़े को तलाक दे दिया.

पत्नी का मामला यह था कि नेपाल में हनीमून के दौरान पति ने उसे ”second hand’ कहकर प्रताड़ित किया क्योंकि उसकी पिछली सगाई टूट चुकी थी. बाद में अमेरिका में पत्नी ने आरोप लगाया कि उसके साथ शारीरिक और भावनात्मक शोषण किया गया. पति ने उसके चरित्र पर लांछन लगाए और उसके अपने भाइयों पर भी अन्य पुरुषों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया. कथित तौर पर पति ने उसे रात में तब तक सोने नहीं दिया जब तक उसने अवैध और व्यभिचारी संबंध होने की बात कबूल नहीं कर ली.

नवंबर 1999 में पति ने कथित तौर पर उसे इतनी बेरहमी से पीटा था कि शोर सुनकर पड़ोसियों ने स्थानीय पुलिस को बुला लिया और उसे घरेलू हिंसा के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. पत्नी ने कहा कि उसने पुलिस से शिकायत नहीं की थी. महिला ने यह भी बताया कि 2000 में जब उसके माता-पिता अमेरिका गए थे, उस समय उसके पिता को दिल का दौरा पड़ा था, लेकिन उसके पति ने उसे अपने पिता के साथ रहने की इजाजत नहीं दी. पत्नी ने दावा किया कि जब couple भारत लौटा, तब भी पति ने उस पर अन्य पुरुषों के साथ अवैध संबंध रखने का आरोप लगाया।

महिला का आरोप है कि 2008 में पति ने तकिए से उसका दम घोंटने की कोशिश की थी जिसके बाद वह अपनी मां के घर चली गई थी. उसने यह भी आरोप लगाया कि पति ने अपनी शादी के दौरान दूसरी महिला से शादी कर ली.  पति ने दलीलों का विरोध किया था, लेकिन चूंकि उसने खुद से जिरह नहीं की, इसलिए मजिस्ट्रेट कोर्ट ने उसकी बात खारिज कर दी. दूसरी ओर पत्नी की मां, भाई और चाचा ने उसके मामले का समर्थन करते हुए अदालत ने पति को उसके रहने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करने या घर के किराए के लिए उसे प्रति माह 75,000 रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया.

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights