Monday, June 24, 2024

China के राष्ट्रपति Xi Jinping से मिले एंटनी ब्लिंकन, रिश्तों मे फिर आई कड़वाहट

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

अमेरिका और China के रिश्ते एक भार फिर बिगड़ते दिख रहे हैं दोनो देशों मे द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दे को लेकर संबंधों मे तनाव काफी बढ़ गया है अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने शुक्रवार को चीनी राष्ट्रपति Xi Jinping और अन्य वरिष्ठ चीनी अधिकारियों के साथ मुलाकात की। बातचीत मे संयुक्त राज्य अमेरिका और China के बीच मतभेदों को “जिम्मेदारी से प्रबंधित” करने के महत्व पर जोर दिया। हालाकि दोनो देशों के बीच मतभेद बढ़ने के साथ हालही के महीनों बातचीत के दौर मे भी वृद्धि हुई है ब्लिंकन और वांग ने संवाद के रास्ते खुले रखने के महत्व को रेखांकित किया,इस सप्ताह की शुरुआत में दोनों देशों के बीच गंभीर मतभेद तब उजागर हुए जब अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने एक विशाल विदेशी सहायता विधेयक पर हस्ताक्षर किए थे जिसमें कई प्रावधान ऐसे थे जो चीन अपने खिलाफ मानता है।

ताइवान से लेकर दक्षिण China सागर और रूस तक तनाव

दोनों देशों के नेताओं की टिप्पणी मतभेदों की एक लंबी सूची का संकेत देती है जिसमें ताइवान और दक्षिण China सागर, व्यापार और मानवाधिकार, रूस के लिए China का समर्थन और ‘सिंथेटिक ओपिओइड प्रीकर्सर’ का उत्पादन और निर्यात शामिल है। वांग ने करीब साढ़े पांच घंटे की बातचीत की शुरुआत में ब्लिंकन से कहा, ‘‘कुल मिलाकर, चीन-अमेरिका के रिश्ते स्थिर होने लगे हैं। लेकिन साथ ही, रिश्ते में नकारात्मक कारक अभी भी बढ़ रहे हैं जिनकी वजह से संबंधों को सभी प्रकार के व्यवधानों का सामना करना पड़ रहा है।

China के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप न करे अमेरिका :वांग

वांग ने कहा हमने हमेशा देशहित की बात की है और संयुक्त राज्य अमेरिका से आग्रह किया है कि वह China के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप न करे, China के विकास को न रोके, और China की संप्रभुता, सुरक्षा और विकास हितों पर China की सीमा रेखा पर कदम न रखे ।

विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने एक बयान में कहा, ब्लिंकन ने “इस बात पर जोर दिया कि अमेरिका हमारे और हमारे सहयोगियों और साझेदारों के हितों और मूल्यों के लिए खड़ा रहेगा, जिसमें मानवाधिकार और आर्थिक मुद्दे भी शामिल हैं।”

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights