Friday, July 1, 2022
spot_imgspot_img
Homecricket'विराट कोहली के खराब फॉर्म के लिए रवि शास्त्री जिम्मेदार'; पूर्व कप्तान...

‘विराट कोहली के खराब फॉर्म के लिए रवि शास्त्री जिम्मेदार’; पूर्व कप्तान ने दिया अटपटा बयान 

spot_imgspot_img

रवि शास्त्री ने नेशनल टीम में दो बार विराट कोहली के साथ मिलकर काम किया है। उन्होंने 2014 में निदेशक के रूप में दो साल तक जबकि 2017 में हेड कोच के रूप में 4 साल तक टीम में कोहली के साथ काम किया है।

भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली का बल्ले से खराब फॉर्म लंबे समय से चर्चा का विषय बना हुआ है। पूर्व कप्तान कोहली ने पिछले करीब तीन साल से कोई शतक नहीं लगाया है। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने इसके लिए 100 से ज्यादा पारियां खेल ली है। कोहली ने आखिरी बार नवंबर 2019 में शतक बनाया था। आईपीएल 2022 में भी उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के लिए 22.73 की औसत से केवल 341 रन बनाए। कोहली अब इंग्लैंड दौरे पर एक से पांच जुलाई तक होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच से प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी कर रहे हैं और सभी की नजरें उन्हीं पर लगी हुई है। फैंस को उम्मीद है कि कोहली के बल्ले से यहां शतक निकलेगा।

कोहली के हालिया फॉर्म को लेकर कई क्रिकेट एक्सपर्ट ने अपनी राय दी है। उनके फॉर्म पर अब सीमा पार से भी बयान आ रहे हैं। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ (Rashid Latif) ने तो बड़ा ही अजीबोगरीब बयान दे दिया है। लतीफ ने कोहली के खराब फॉर्म के लिए पूर्व कोच रवि शास्त्री को जिम्मेदार ठहराया है। लतीफ ने अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए कहा कि शास्त्री कोहली का कोचिंग से कोई लेना-देना नहीं था। 

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने कहा, ‘यह उनकी (रवि शास्त्री) की वजह से हुआ है। 2019 में आपने कुंबले जैसे खिलाड़ी को हटा दिया और रवि शास्त्री को लेकर आए। उनके पास मान्यता थी या नहीं, मुझे नहीं पता। वह एक ब्रॉडकास्टर (कमेंटेटर) था। उनका कोचिंग से कोई लेना देना नहीं था। विराट कोहली को छोड़कर, मुझे यकीन है कि और भी लोग रहे होंगे जिन्होंने शास्त्री को अंदर लाने में भूमिका निभाई होगी। लेकिन अब यह उल्टा पड़ रहा है, है ना? अगर वह (शास्त्री) कोच नहीं बनते तो उनका (कोहली) फॉर्म नहीं गिरता।’

शास्त्री ने नेशनल टीम के साथ अपने 2 कार्यकाल के दौरान कोहली के साथ मिलकर काम किया। शास्त्री 2014 में निदेशक के रूप में नेशनल टीम में शामिल हुए थे, जहां उन्होंने 2 साल तक टीम के साथ काम किया। इसके बाद 2017 में, उन्होंने हेड कोच के रूप में पदभार संभाला और 4 साल तक टीम के साथ काम किया। कोचिंग का कार्यकाल खत्म होने के बाद शास्त्री अब फिर से कमेंट्री बॉक्स में आ गए हैं। शास्त्री उन लोगों में से एक थे, जिन्होंने कोहली को क्रिकेट से ब्रेक लेने की सलाह भी दी थी।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments