Wednesday, May 29, 2024

Kenya की मदद के लिए पहुंचा भारत, बाढ़ पीड़ितों के लिए भेजी राहत सामग्री

- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

Kenya में लगातार बारिश के कहर से आई बाढ़ में अब तक लाखों लोग बेघर और 200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है इतना ही नहीं बाढ़ में करीब 2,000 स्कूल भी नष्ट हो गए हैं. बाकी सभी स्कूलों को केन्या सरकार ने अगली सूचना तक बंद करने के आदेश दिए है. गौरतलब है कि Kenya और भारत के बीच पहले से मजबूत संबंध रहे हैं. ऐसे में मित्र देश भारत ने प्राकृतिक आपदा से जूझ रहे केन्या पीड़ितों की सहायता के लिए राहत सामग्री भेजी है भारत से 40 टन दवाओं, चिकित्सा आपूर्ति और अन्य उपकरणों से युक्त मानवीय सहायता और आपदा राहत (HADR) सामग्री की दूसरी खेप मंगलवार को हिंडन हवाई अड्डे गाजियाबाद से राजधानी नैरोबी के लिए रवाना हो गई है।

भारत ने पहले भी भेजी थी राहत सामग्री

10 मई को भारत ने केन्या को भोजन, राहत और दवा की आपूर्ति सौंपी। Kenya में भारतीय उच्चायोग ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट किया, “Kenya के साथ एकजुटता के साथ खड़े भारतीय नौसैनिक जहाज सुमेधा ने हिंद महासागर क्षेत्र में बाढ़ पीड़ितों के लिए भोजन राहत और दवा की आपूर्ति केन्या सरकार को सौंप दी है।

विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने कहा

विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर इसको ट्वीट कर बताया। उन्होंने लिखा, “बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए 40 टन दवाओं, चिकित्सा आपूर्ति और अन्य उपकरणों से युक्त एचएडीआर सामग्री की दूसरी किश्त Kenya के लिए रवाना हो रही है। एक ऐतिहासिक साझेदारी और विश्वबंधु के लिए हम खड़े हैं।”

बाढ़ से अब तक 227 लोगों की मौत

रिपोर्ट के मुताबिक, Kenya में मूसलाधार बारिश के कारण विनाशकारी बाढ़ आई है, जहां 227 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई और हजारों लोग विस्थापित हो गए हैं. इतना ही नहीं बाढ़ में करीब 2,000 स्कूल भी नष्ट हो गए हैं. बाकी सभी स्कूलों को अगली सूचना तक बंद कर दिया गया है.

बाढ़ से अब तक ढाई लाख लोग बेघर

पिछले कई दिनों से केन्या में भारी बारिश से पूरा देश बाढ़ से त्रस्त है। हजारों घर बाढ़ मे तबाह हो गए वही लाखों लोगों ने अपने घरों को खाली करके सुरक्षित स्थान पर चले गए। सरकारी रिपोर्ट के मुताबिक अब तक सैकड़ों लोगों की बाढ़ में मौत हो चुकी है। अब तक ढाई लाख से ज्यादा लोग विस्थापित हो चुके हैं। बाढ़ ने पूर्वी अफ्रीका की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था में घरों, सड़कों, पुलों और अन्य बुनियादी ढांचे को नष्ट कर दिया है।

देश में खाने-पीने की सामग्री की भारी कमी हो गई है

Kenya में इस तरह की भयानक बाढ़ पहली बार आई है। बाढ़ से प्रभावित लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। देश में खाने-पीने की सामग्री की भारी कमी के चलते लोग परेशान हैं भारत समेत कई देशों ने राहत सामग्री भेजकर सहायता उपलब्ध कराई है।

Kenya सरकार को ठहराया जिम्मेदार

Kenya के लोगों ने बाढ़ से नुकसान के लिए सरकार को लापरवाह कहते हुए जिम्मेदार बताया है हालांकि, मथारे क्षेत्र के लोग खराब रखरखाव और अक्सर बाधित जल निकासी प्रणालियों की समस्या को बाढ़ की पहली वजह बता रहे हैं। अल नीनो जैसी जलवायु घटनाएं और भारी वर्षा भी बड़ा कारण हैं।

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे