spot_imgspot_img
HomePoliticalजीत के करीब मुक्तदा अल-सद्र,इराक संसदीय चुनाव

जीत के करीब मुक्तदा अल-सद्र,इराक संसदीय चुनाव

spot_img

संसदीय चुनावों के शुरुआती नतीजों के मुताबिक प्रमुख शिया धर्मगुरु मुक्तदा अल-सद्र की पार्टी अन्य राजनीतिक दलों से आगे है. इन चुनावों में बहुत उत्साह देखने को नहीं मिला है.इराक में रविवार को हुए संसदीय चुनाव के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. सोमवार को सरकारी अधिकारियों की ओर से जारी शुरुआती नतीजों और बयानों के मुताबिक देश के प्रमुख शिया धर्मगुरु मुक्तदा अल-सद्र की पार्टी ने सबसे ज्यादा सीटें जीती हैं. मुक्तदा अल-सद्र के समर्थकों ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि उनकी पार्टी ने 329 में से 73 सीटों पर कब्जा जमा लिया है. प्रारंभिक नतीजों के मुताबिक शिया समूह के पूर्व प्रधानमंत्री नूरी अल-मलिकी की पार्टी दूसरे स्थान पर है. इस बार के चुनाव में 329 सीटों पर कुल 3,449 उम्मीदवार मैदान में हैं

2003 में इराक पर अमेरिका के नेतृत्व वाले हमले और उसके बाद सद्दाम हुसैन के निष्कासन के बाद से शिया समूह इराक में सत्ता को नियंत्रित करने में सबसे आगे रहा है. रविवार 10 अक्टूबर को इराक में संसदीय चुनाव हुए जिसमें आश्चर्यजनक रूप से कम मतदान हुआ. 2019 में देश में एक युवा नेतृत्व वाला जन आंदोलन शुरू हुआ, जिसने देश को तूफान से घेर लिया और सरकार विरोधी प्रदर्शनों की एक श्रृंखला को जन्म दिया. तब से यह पहला संसदीय चुनाव था. नेताओं पर विश्वास की कमी चुनाव कराने में सफलता का दावा करते हुए प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी ने कहा कि उन्होंने वादे के अनुसार निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के अपने कर्तव्य को पूरा किया और ऐसा करने में सफल रहे. लेकिन कई लोगों ने उनकी टिप्पणियों की आलोचना करते हुए कहा कि कम मतदान एक संकेत था कि लोगों ने नेताओं में विश्वास खो दिया था और वर्तमान सरकार निष्पक्ष चुनाव कराने का दावा कर रही थी, लेकिन मतदाताओं के अविश्वास को दर्शाता है. एए/सीके (एफपी, एएफपी)

spot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments