Sunday, December 4, 2022
spot_imgspot_img
Homechhatisgadhअस्पताल में मुस्कुरा रहा, गाने सुन रहा, 106 घंटे बोरवेल के गड्‌ढे...

अस्पताल में मुस्कुरा रहा, गाने सुन रहा, 106 घंटे बोरवेल के गड्‌ढे में फंसा रहा था…

spot_imgspot_img

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा में 60 फीट बोरवेल में गिरकर घायल हुआ राहुल साहू अब धीरे-धीरे स्वस्थ्य हो रहा है। बिलासपुर के अपोलो अस्पताल में भर्ती राहुल का VIDEO सामने आया है, जिसमें वह मोबाइल से गाने सुन रहा है और मुस्कुरा रहा है। मोबाइल में फोटो भी देख रह है। उसके इस VIDEO को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी ट्वीट किया है और छत्तीसगढ़िया अंदाज में कमेंट भी किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है राहुल खेलत हे, हंसत हे, मुस्कुरावत, झुमत हे।

अस्पताल में पांच दिन से भर्ती राहुल साहू की तबीयत में अब काफी सुधार है। अब वह खुद के सहारे धीरे-धीरे बैठने लगा है। उसे सुबह फल दिए जा रहे हैं। 60 फीट से अधिक गहराई में गिरने के कारण उसका शरीर कई जगह से छिल गया है, जिस पर मरहम पट्टी की जा रही है। 10 जून को राहुल बोरवेल के लिए खोदे गए गड्‌ढे में 60 फीट की गहराई में गिर गया था।

अपोलो अस्पताल में भर्ती राहुल साहू की अस्पताल में की जा रही फिजियोथेरैपी।

उसे 106 घंटे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद 14 जून की रात को सुरक्षित उस गड्‌ढे से निकाला गया था। तब से राहुल अस्पताल में भर्ती है।

अस्पताल की वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. इंदिरा मिश्रा ने बताया कि राहुल अब पहले से काफी ठीक है। उसे पहले की तरह बुखार नहीं आ रहा है। इससे यह माना जा सकता है कि उसके शरीर में संक्रमण भी धीरे-धीरे कम हो रहा है। अभी अब उसकी फीजियोथेरैपी पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है। हर दिन फिजियोथेरैपिस्ट उसे एक्सरसाइज करवा रहे हैं। यही वजह है कि राहुल अब बैठने लगा है। उसे अब पहले जैसे सहारे की जरूरत नहीं पड़ रही है।

इलाज के साथ-साथ डॉक्टर उसे मोबाइल दिखाकर उसका मनोरंजन भी कर रहे हैं।

ब्लड की होगी जांच
डॉ. मिश्रा ने बताया कि राहुल के शरीर के भीतर ब्लड में संक्रमण की मात्रा कितनी है। इसकी जांच के लिए फिर से ब्लड सैंपल लेकर जांच की जाएगी। इसके बाद उसके उपचार और डिस्चार्ज करने पर फैसला लिया जाएगा।

जांजगीर-चांपा जिले के पिहरीद गांव में 60 फीट से अधिक गहरे बोरवेल के गड्‌ढे में गिर गया था राहुल

106 घंटे बोर में रहने के कारण हाथ-पैर में अकड़न
गहरे बोर में चार दिन से अधिक समय तक फंसे राहुल का सफल रेस्क्यू किया गया था। इसके बाद से उसका अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा है। दरअसल, पांच दिनों तक तीन से चार फीट चौड़ी जगह पर रहने के कारण उसके हाथ-पैर में अकड़न आ गई थी। इसके चलते उसकी फीजियोथेरैपी चल रही है।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments