Monday, May 23, 2022
spot_imgspot_img
HomeBusinessकेवल दो बार आया 'गरीब' शब्द: चिदंबरम ,अब तक का सबसे पूंजीवादी...

केवल दो बार आया ‘गरीब’ शब्द: चिदंबरम ,अब तक का सबसे पूंजीवादी बजट,

spot_imgspot_img

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने मंगलवार को पेश किया गया आम बजट अब तक का सबसे पूंजीवादी बजट बताया। उन्होंने कहा कि पूरे बजट भाषणा के दौरान केवल दो बार ही ‘गरीब’ शब्द बोला गया। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने आज संसद में पेश किए गए केंद्रीय बजट में करों को बढ़ाने का प्रयास नहीं किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछले साल से इस परंपरा को जारी रखा है, जब प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को निर्देश दिया था कि वे कोविड-19 के दौरान आम आदमी पर अधिक करों का बोझ न डालें।

चिदंबरम ने क्यों कहा निर्मला सीतारमण को धन्यवाद

हालांकि विपक्ष बजट आने के बाद से लगातार हमलावर है। पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा, “आज का बजट भाषण किसी वित्त मंत्री द्वारा पढ़ा गया अब तक का सबसे पूंजीवादी भाषण था। ‘गरीब’ शब्द पैरा 6 में केवल दो बार आता है और हम वित्त मंत्री को यह याद रखने के लिए धन्यवाद देते हैं कि इस देश में गरीब लोग भी हैं। लोग इस पूंजीवादी बजट को खारिज कर देंगे

पी चिदंबरम ने कहा, “मैं चकित, स्तब्ध था कि वित्त मंत्री अगले 25 वर्षों के लिए एक योजना की रूपरेखा तैयार कर रही थीं। सरकार को लगता है कि वर्तमान पर कोई ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है और जनता को ‘अमृत काल’ के उदय होने तक धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करने के लिए कहा जा सकता है। यह भारत के लोगों का मजाक उड़ाया जाना है।”

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने वर्चुअल डिजिटल ऐसेट्स पर टैक्स को लेकर एक सवाल के जवाब में कहा, “यह (बजट 2022) जाहिर तौर पर देश के बहुत अमीर लोगों के इशारे पर है। आरबीआई के बजाय, वित्त मंत्री ने वस्तुतः घोषणा की है कि क्रिप्टोकरेंसी आज से कानूनी है। अब यह सब भारत के 99.99% लोगों के लिए फायदेमंद नहीं है।” 

संसद में बजट पेश करते हुए, सीतारमण ने कहा कि सरकार का लक्ष्य स्वतंत्रता के 100 वर्षों में भारत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा निर्धारित दृष्टिकोण को प्राप्त करना है। उन्होंने जोर देकर कहा कि ‘अमृत काल’ के दौरान कुछ लक्ष्यों को प्राप्त करके इस दृष्टि को प्राप्त किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बजट ‘अमृत काल’ पर अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए नींव रखना और एक खाका देना चाहता है।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments