Monday, May 23, 2022
spot_imgspot_img
HomeNationalनेपाली कांग्रेस ने भी अब कालापानी पर जताया अधिकार

नेपाली कांग्रेस ने भी अब कालापानी पर जताया अधिकार

spot_imgspot_img

सत्ता हासिल करने के लिए नेपाली कांग्रेस के भी फूटे भारत विरोधी स्वर

सीमा क्षेत्र में रह रहे भारतीय नागरिकों को दिया नेपाली नागरिकता देने का प्रलोभन

नेपाल में माओवादी नेताओं के बाद अब नेपाली कांग्रेस ने भी कालापानी पर अधिकार जताया है। सत्ता हासिल करने के लिए माओवादी संगठनों की राह पर चलते हुए नेपाल कांग्रेस के भारत विरोधी स्वर फूटने लगे हैं। नेपाल कांग्रेस ने कालापानी, लिम्पियाधुरा, लिपुलेख को नेपाल का हिस्सा बताते हुए सीमा क्षेत्र में रह रहे भारतीय नागरिकों को नेपाली नागरिकता देने का प्रलोभन दिया है। ऐसा कर नेपाल कांग्रेस सत्ता हासिल करने के साथ ही दोनों देशों के बीच अराजकता का माहौल तैयार करने में जुट गई है।

पूर्व में माओवादी संगठनों ने कालापानी विवाद को हवा देकर सत्ता हासिल की थी। अब उसी की राह पर चलते हुए नेपाली कांग्रेस भी इस विवाद को तूल देने में जुट गई है। नेपाल कांग्रेस भारत विरोधी दांव खेलकर सत्ता में वापसी की उम्मीद पाल रही है। नेपाल कांग्रेस के नेताओं के भारत विरोधी बयान इस बात का प्रमाण है। नेपाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गगन कुमार थापा व विश्व प्रकाश शर्मा ने एक कार्यक्रम में कालापानी, लिम्पियाधुरा, लिपुलेख को नेपाल का हिस्सा बताकर सीमा क्षेत्र में रह रहे भारतीय नागरिकों को नेपाली नागरिकता देने का प्रलोभन दिया है। साफ है कि नेपाल कांग्रेस भारत के खिलाफ अराजकता का माहौल तैयार कर रही है। साथ ही सीमा में तैनात भारतीय सेना को वापस करने की मांग कर माओवादियों की राह पर चलते हुए नेपाल की सत्ता हासिल करने की कोशिश हो रही है।

झूलाघाट। नेपाल कांग्रेस ने सीमा सुरक्षा के साथ ही पर्यटन विकास को लेकर बनाई जा रही तवाघाट-लिपुलेख सड़क का भी विरोध किया है। नेपाल कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि कालापानी, लिम्पियाधूरा, लिपुलेक नेपाली भू-भाग। कहा इस भू-भाग पर बन रही सड़क का नेपाल कांग्रेस हमेशा विरोध करेगी।

ओली सरकार ने पास किया था विवादित नक्शा

झूलाघाट। पूर्व में नेपाल की सत्ता में काबिज ओली सरकार ने कालापानी, लिम्पियाधुरा व लिपुलेख का विवादित नक्शा पास कर भारत के खिलाफ कूटनीतिक चाल चली थी। हालांकि वे इस चाल में सफल नहीं हो सकी। इस सरकार ने तब भी भारतीय नागरिकों को नेपाली नागरिकता देने का प्रलोभन दिया था। लेकिन व्यास घाटी के लोगों ने नेपाल सरकार के इस प्रलोभन को ठुकरा दिया था।

spot_imgspot_img
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_imgspot_img
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments