Friday, June 14, 2024

वैज्ञानिकों ने खोजी पृथ्वी जैसी नई दुनिया, जहां फल-फूल सकता है जीवन; 42 डिग्री है “Gliese 12-B” का तापमान

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

Alien Life Hunting (Glishe 12-B): अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा के वैज्ञानिकों (Scientists) ने एक नए दुनिया की खोज करके पूरे विश्व को हैरान कर दिया है। नासा की Scientists टीम ने ट्रांजिटिंग एक्सोप्लेनेट सर्वे सैटेलाइट (TESS) की मदद से पृथ्वी से लगभग 40 प्रकाश वर्ष दूर एक नए ग्रह ग्लिशे 12-बी (Gliese 12-B) की खोज की है. बता दे कि अबतक के खोजे गए ग्रहों मे रहने योग्य एक्सोप्लैनेट में यह धरती से सबसे करीब है. अनुमान है कि Glishe 12-B पर जीवन संभव हो सकता है.

यहां का तापमान ऐसा है कि पानी इसके सतह पर लिक्विड अवस्था में रह सकता है.यह आकार और वायुमंडल के मामले में हमारे पृथ्वी की तरह है, इसकी जानकारी रॉयल एस्ट्रोनॉमिकल सोसायटी के मंथली जर्नल में छपी थी.अब यह जानना और भी दिलचस्प होगा कि धरती की तरह इस नई दुनिया में भी क्या इंसान और अन्य जीव रहते हैं? क्या वैज्ञानिक जल्द नई दुनिया का रहस्य खोलने वाले हैं?…नई दुनिया का पता लगते ही लोगों के जेहन में ऐसे सवाल उठने लगे हैं।

रहने योग्य हो सकता “Glishe 12-B”

यह एक लाल और बौने तारे की परिक्रमा करते हुए वैज्ञानिकों को मिला है.हालाकि पृथ्वी की तुलना में यह थोड़ा छोटा है.इसके जीवन वाले भाग को ‘गोल्डीलॉक्स जोन’ के नाम से जाना जाता है. यहां पर किसी भी तरल पदार्थ के लिए यह न तो ज्यादा ठंडा है और ना ही ज्यादा गर्म है, जो कि जीवन के लिए महत्वपूर्ण हो सकता है.इसकी अपने मुख्य तारे से दूरी ,पृथ्वी और सूर्य के बीच के दूरी का 7% है फिर भी यह रहने योग्य हो सकता है

नई दुनिया में जीवन की मौजूदगी की अधिक संभावना

टोक्यो में परियोजना का सह-नेतृत्व कर रहे प्रोफेसर मासायुकी कुज़ुहारा ने कहा, “हमने आज तक की सबसे पारगमन, समशीतोष्ण, निकटतम, पृथ्वी के आकार की दुनिया का पता लगाया है। हालांकि इसमें वायुमंडल है या नहीं । हम अभी तक नहीं जानते हैं हम इस ग्रह को एक एक्सो-वीनस के रूप में सोच रहे हैं, उन्होने कहा अभी यह नहीं पता चल पाया है कि इस नई दुनिया में कौन रहता है। वैज्ञानिक इस नई दुनिया में जीवन की मौजूदगी या संभावना का पता लगाने को लालायित हैं।

शुक्र और पृथ्वी के बीच मिला “Glishe 12-B”

शुक्र और पृथ्वी के बीच वाले भाग में मिले Glishe 12-B ग्रह की दोनों ग्रह के साथ कई समनाताएं हैं. इसलिए Glishe 12-B को इन दोनो ग्रहों की संतान भी बताया जा रहा है वैज्ञानिकों ने कहा कि Glishe 12-B अपने तारे से 1.6 गुना गर्मी प्राप्त करता है, इसके बावजूद यह ग्रह पृथ्वी से मात्र 50 डिग्री फारेनहाइट अधिक गर्म है.

खोजकर्ता ने क्या कहा

खोजकर्ता पैलेथोरपे ने कहा…इसका आकार पृथ्वी के समान होना और इसे हमारे द्वारा खोजा जाना वास्तव में सुखद था,…लेकिन मुझे यह जानने में विशेष दिलचस्पी है कि क्या इस ग्रह पर जीवन संभव हो सकता है? उन्होने कहा ग्लिशे 12-बी का पृथ्वी और शुक्र ग्रह के बीच पाया जाना और भी दिलचस्प है.

यह भी पढ़ें – Hamas के हमले के बाद रफा पर इजराइली अटैक से मचा कोहराम, 35 फिलिस्तीनी की मौत

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights