Sunday, June 23, 2024

Ram Rahim को पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने हत्या मामले में किया बरी, आखिर क्या था 2002 का मामला

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

एक बड़ी खबर Gurmeet Ram Rahim को लेकर सामने आयी है. बतादें कि डेरा प्रमुख और चार अन्य को हत्या मामले में पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने Gurmeet Ram Rahim को बरी कर दिया है. इसके साथ ही पांचों आरोपियों को जिन्हे रंजीत सिंह हत्या मामले में गिरफ्तार किया गया था, उन सभी को बरी कर दिया गया है. दरअसल, CBI कोर्ट के फैसले को रद्द करते हुए हरियाणा एवं पंजाब हाईकोर्ट ने ये फैसला सुनाया है. खबर है कि हाईकोर्ट में Ram Rahim ने CBI कोर्ट के फैसले के खिलाफ अपील की थी.

जैसा की सब जानते हैं, 2019 में दो हत्याओं और रेप केस के मामले में Ram Rahim के साथ ही बाकि लोगों को CBI कोर्ट ने दोषी ठहराया था. जिसके बाद 18 अक्तूबर 2021 को कोर्ट ने रंजीत सिंह की हत्या मामले में Ram Rahim के साथ ही अन्य लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी.

ram rahim

आपको बतादें कि Ram Rahim के साथ जो इस मामले के बाकि आरोपी थे उनके नाम है कृष्णलाल, अवतार सिंह, सबदिल सिंह और जसबीर सिंह। वहीं ट्रायल के दौरान ही एक आरोपी की मौत हो गई थी.

हाईकोर्ट के समक्ष पत्रकार की हत्या और रेप के मामले में Ram Rahim की अपील अभी भी लंबित है. और इस समय रोहतक की सुनारिया जेल में Ram Rahim बंद हैं.

यह 2002 का मामला है

डेरा की प्रबंधन समिति के सदस्य रणजीत सिंह की साल 2002 में हत्या कर दी गई थी. साध्वी यौन शोषण की गुमनाम चिट्ठी रणजीत सिंह ने अपनी बहन से ही लिखवाई थी, डेरा प्रबंधन को इस बात का शक था. रणजीत सिंह के बेटे ने पुलिस जांच से असंतुष्ट होकर 2003 में हाईकोर्ट में याचिका दायर कर CBI जांच की मांग करी थी. जिसके बाद CBI को यह मामला सौंपा गया था और Ram Rahim के साथ 5 आरोपियों को दोषी ठहराया गया था. 2007 में इस मामले में आरोपियों पर आरोप तय किए थे.

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights