Saturday, July 13, 2024

Period Delay होने का मतलब प्रेगनेंसी नहीं! तो फिर जाने क्या

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

कुसुम ठाकुर

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

अक्सर जब Period Delay होते हैं तो महिलाओं के दिमाग में आता है कि कहीं वो गर्भवती तो नहीं हैं. कई बार प्रेग्नेंसी प्लान कर रहीं महिलाएं यह जानकर खुश हो जाती हैं, तो वहीं कई अनचाहे गर्भावस्था के डर से घबरा जाती हैं. दोनों ही स्थितियों में आपको घबराने की जरूरत नहीं है. हम आपको बताएंगे कि Period Delay होने के कारण क्या हैं, और ऐसा होने पर आपको प्रेग्नेंसी टेस्ट करने से पहले कितने समय तक इंतजार करना चाहिए. स्वास्थ से जुड़ी इस जानकारी से रूबरू कराएँगे –

Period Delay होने का मतलब प्रेग्नेंसी या कुछ और? जिस दिन माहवारी शुरू होती है, उस दिन से लेकर अगली माहवारी के पहले दिन तक को एक Periods साइकल माना जाता है। सामान्य Periods साइकल लगभग 28 दिनों का होता है। हालांकि एक सामान्य चक्र 38 दिनों तक का भी हो सकता है। यदि आपकी Periods साइकल इससे अधिक लंबा है या सामान्य से अधिक लंबा है, तो इसे Period Delay माना जाता है। यहां कुछ कारण हैं, जो Periods में देरी के कारण हो सकते हैं, आइये विस्तार से समझे –

1. हाई प्रोलैक्टिन लेवल

प्रोलैक्टिन हार्मोन स्तनपान, ब्रेस्ट टिश्यू के विकास और दूध उत्पादन के लिए जिम्मेदार होते हैं। ब्लड में प्रोलैक्टिन का सामान्य से अधिक स्तर Periods में देरी कर सकता है। 50-100 एनजी/एमएल के बीच हाई प्रोलैक्टिन लेवल अनियमित अनियमित पीरियड और इनफर्टिलिटी के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। कुछ दवा, इन्फेक्शन यहां तक कि स्ट्रेस भी प्रोलैक्टिन हॉर्मोन के सीक्रेशन को बढ़ावा देता है।

2. थायराइड

Periods साइकल को नियंत्रित करने में मदद करता है। बहुत अधिक या बहुत कम थायराइड हार्मोन Periods साइकल को बहुत हल्का, भारी या अनियमित बना सकता है। थायराइड डिजीज के कारण मासिक धर्म कई महीनों या उससे अधिक समय तक रुक सकते हैं, इस स्थिति को एमेनोरिया कहा जाता है।’

3 हीमोग्लोबिन का लो लेवल

हीमोग्लोबिन का लो लेवल एंडोमीट्रियल ग्रोथ को प्रभावित कर सकता है। इससे Periods शुरू होने में देरी हो सकती है। लो हीमोग्लोबिन के कारण शरीर में आयरन कम हो जाता है, जो Periods को प्रभावित कर सकता है। इसके कारण एनीमिया हो जाता है, जो मासिक धर्म चक्र में देरी या अनियमितताओं का कारण बन सकता है।

4. फीवर और इन्फेक्शन

किसी प्रकार का संक्रमण मासिक धर्म को सीधे तौर पर प्रभावित नहीं कर सकता है। लेकिन इसके कारण होने वाला फीवर, यूटीआई के कारण Periods डिले हो सकता है। यूटीआई के कारण शरीर पर पड़ने वाला तनाव Periods को प्रभावित कर सकता है। साथ ही यदि आपकी स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल है, तो तनाव की वजह से Period Delay हो जाते हैं.

5. अत्यधिक मोटापा या पोषण की कमी

अधिक वजन या मोटापा मासिक धर्म चक्र को प्रभावित कर सकता है। यदि वजन अधिक है, तो शरीर अतिरिक्त मात्रा में एस्ट्रोजन का उत्पादन करने लग सकता है। यह महिलाओं में प्रजनन प्रणाली को नियंत्रित करने वाले हार्मोनों में से एक है। एस्ट्रोजन की अधिकता सीधे तौर पर Periods को प्रभावित कर सकती है। यह उसे रोकने का कारण भी बन सकती है। पोषक तत्वों की कमी भी इसके लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। क्योंकि शरीर में बहुत अधिक बदलाव आने पर इस साइकल पर नेगेटिव इफेक्ट पड़ता है।

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights