Monday, June 17, 2024

Indonesia में फिर फटा रूआंग ज्वालामुखी, भूकंप का खतरा बढ़ा, हाई अलर्ट जारी

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

न्यूज़ डेस्क : (GBN24)

Indonesia में एक बार फिर ज्वालामुखी विस्फोट हो रहे है। इस बार रुआंग ज्वालामुखी ज्यादा एक्टिव नजर आ रहा है। ज्वालामुखी में हो रही गतिविधियों के चलते एहतियाती कदम भी उठाए जा रहे हैं। बढ़ते खतरे को देखते हुए ज्वालामुखी विज्ञान और भूवैज्ञानिक खतरा शमन केंद्र (पीवीएमबीजी) ने सुबह अलर्ट जारी करते हुए निवासियों से ज्वालामुखी के पास नहीं जाने का आग्रह किया है।
Indonesia के उत्तरी सुलावेसी प्रांत में रुआंग ज्वालामुखी में हो रहे विस्फोटों के बाद कम से कम 800 लोगों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाया गया है। ज्वालामुखी की वजह से पिछले कई दिनों से आसमान में लावा और राख के बादल छाए हुए हैं। प्रांतीय राजधानी मानदो से लगभग 100 किलोमीटर (62 मील) दूर रुआंग द्वीप पर स्थित ज्वालामुखी पिछले मंगलवार के बाद से अब तक तीन से अधिक बार फट चुका है।

चेतावनी स्तर को बढ़ाया गया

ज्वालामुखी पर नजर रखने वाले Indonesia के एक अधिकारी हेरुनिंगत्यास देसी पूर्णमासारी ने रॉयटर्स को बताया कि अधिकारियों ने बढ़ती गतिविधि के बाद चेतावनी स्तर को चौथे उच्चतम स्तर तक बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा पहाड़ से आसमान में 2 किमी (1.24 मील) की ऊंचाई तक खतरनाक और “विस्फोटक गर्म बादल” नजर आ रहे थे। अधिकारियों ने संभावित “विस्फोटक विस्फोट” की चेतावनी देते हुए, 6 किमी के दायरे में रहने वाले निवासियों से तुरंत खाली होने का आग्रह किया है । क्रेटर से 6 किलोमीटर के भीतर किसी भी गतिविधि की अनुमति नहीं दी गई है।” उन्होंने कहा, रुआंग द्वीप लगभग 838 निवासियों का घर है, जिनमें से अधिकांश को अब निकटतम द्वीप टैगुलानडांग में ले जाया गया है।

बना हुआ है लावा का प्रवाह

रॉयटर्स की ओर से देखे गए फ़ुटेज में दिख रहा है कि पहाड़ से नीचे की ओर लावा का प्रवाह निरंतर बना हुआ है ज्वालामुखी के क्रेटर के ऊपर भूरे राख के बादल उभरते हुए दिखाई दे रहे हैं। देखने वाली बाच यह भी है कि Indonesia “पैसिफिक रिंग ऑफ फायर” में फैला हुआ है, जो उच्च भूकंपीय गतिविधि का एक क्षेत्र है। यह क्षेत्र कई टेक्टोनिक प्लेटों के ऊपर स्थित है। इससे पहले साल 2023 के दिसंबर महीने में मरापी ज्वालामुखी में विस्फोट हुआ था जिसमें 11 पर्वतारोहियों की मौत हो गई थी।

भूकंप का खतरा बढ़ा

ज्वालामुखी विज्ञान और भूवैज्ञानिक खतरा शमन के अधिकारियों ने कहा कि ज्वालामुखी विस्फोट एरिया के चारों ओर भूकंपीय गतिविधि में वृद्धि के साथ मेल खाता है, जिससे भूकंप आने की संभावना बढ़ गई है। पिछले सप्ताह अधिकारियों ने खतरे के स्तर को घटाकर 3 कर दिया था मंगलवार को फिर से बढ़ते खतरे को देखते हुए स्तर को बढाकर 4 कर दिया है

आपका वोट

How Is My Site?

View Results

Loading ... Loading ...
यह भी पढ़े
Advertisements
Live TV
क्रिकेट लाइव
अन्य खबरे
Verified by MonsterInsights